तेलंगाना को ग्रीन पावर जनरेशन वाली राज्य‌ में बदलने पर विचार

तेलंगाना को ग्रीन पावर जनरेशन वाली राज्य‌ में बदलने पर विचार

हैदराबाद: सरकार‌ तेलंगाना राज्य‌ में पाइपलाइन में बिजली की पैदावार के योजना को बढ़ावा देते हुए राज्य को ग्रीन पावर‌ जनरेशन वाली राज्य‌ में बदलने में सहयोग‌ करे। शहर हैदराबाद से संबंध‌ रखने वाले वैज्ञानिक मिस्टर श्रीनिवास भास्कर चागंटी ने बताया कि ”इन पाइप जनरेशन”नू उनकी अपना आविष्कार है और वो 1996 में इस योजना को पेश कर चुके हैं लेकिन उस वक़्त की सरकार ने इस योजना को महत्व नहीं दिया।

श्रीनिवास भास्कर ने बताया कि NASA में सेलेंड्रीकल पाइप के ज़रिए बिजली पैदा की जाती है जब कि उन्होंने पाइपलाइन के अंदर बिजली पैदावार का कामयाब तजुर्बा किया है। उन्होंने बताया कि सरकार‌ की ओर‌ से इस योजना को लागू कर सुनिश्चित किया गया है तो ऐसी सूरत में कम ख़र्च पर बिजली पैदावार मुम्किन बनाई जा सकती है लेकिन सरकार‌ को इस योजना को लागू करने और प्राचीन प्रक्रिया को लागू करने के लिए रणनीतियों का विकास करना होगा।

श्रीनिवास भास्कर ने बताया कि राज्य‌ तेलंगाना में सौर और अन्य तरीका उत्पादन को बढ़ावा दिया जा रहा है लेकिन इस प्रक्रिया को अनदेखा किया जा रहा है जबकि उनके पाइप पाव‌र जनरेशन के ज़रिए बिजली पैदावार की सूरत में यूनिट नू 5 से 10 पैसा में पैदावार मुम्किन हो सकती है।

इस आविष्कार केहोने का दावे करने वाले वैज्ञानिक का कहना है कि ये बात साबित हो चुकी है कि इन पाइप पाव‌र जनरेशन NASA की ओर‌ से इस्तेमाल की जाने वाली टेक्नोलोजी से काफ़ी हद तक बेहतर है और इस के लागत भी काफ़ी कम हैं।

Top Stories