Monday , December 11 2017

तेलंगाना बिल पर दिल्ली में सरगर्मिया तेज

मरकज़ी हुकूमत के तेलंगाना बिल को पास करने के करारदाद को देखते हुए आंध्र प्रदेश के सीनीयर लीडर रियासत की तकसीम की मुखालिफत में पैरवी (लॉबिंग) करने के लिए दिल्ली का रास्ता पकड़ रहे हैं। वज़ीर ए आला एन.

मरकज़ी हुकूमत के तेलंगाना बिल को पास करने के करारदाद को देखते हुए आंध्र प्रदेश के सीनीयर लीडर रियासत की तकसीम की मुखालिफत में पैरवी (लॉबिंग) करने के लिए दिल्ली का रास्ता पकड़ रहे हैं। वज़ीर ए आला एन. किरन कुमार रेड्डी अपनी मांग पर ताइद हासिल करने के लिए मंगल के रोज़ दिल्ली के लिए रवाना हो गए। रियासती मुकन्निना (राज्य विधानमंडल) के दोनों ऐवानो में इस बिल को खारिज कर दिया गया है।

उन्होंने दिल्ली पहुंचने पर मुल्क की दारुल हुकूमतमें पहले से ही मुहिम चला रहे लीडरों से मुलाकात की। मरकज़ी हुकूमत आंध्र प्रदेश तंज़ीम नौ बिल 2013 पार्लियामेंट में पेश करने वाली है। तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के सदर एन.चंद्रबाबू नायडू और तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के चीफ के.चंद्रशेखर राव समेत तेलंगाना और सीमांध्र के कांग्रेस और तेदेपा के कई आला लीडर लॉबिंग में मशरूफ हैं।

नायडू ने पीर की रात सदर जम्हूरिया प्रणब मुखर्जी से मुलाकात कर तेलंगाना मसले का कोई मुनासिब हल निकालने के लिए मुदाखिलत की मांग की है। उन्होंने शिकायत की है कि मरकज़ी हुकूमत एकतरफा रवैया अपना रही है। आंध्र के साबिक वज़ीर ए आला नायडू ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सदर राजनाथ सिंह से पीर के रोज़ मुलाकात की थी।

दूसरी तरफ, टीआरएस चीफ ने बीजेपी और दिगर पार्टियों के लीडरों से तेलंगाना बिल पर ताईद मांगे । इधर, तेलंगाना के वज़ीर और कांग्रेस लीडर दिल्ली में मौजूद हैं और वे ज़ल्द पार्लियामेंट में पेश किए जाने की मांग को लेकर मरकज़ी लीडरों से मुलाकात करेंगे।

TOPPOPULARRECENT