Tuesday , December 12 2017

तेलंगाना मुलाज़िमीन की तनख़्वाहों में 43 फ़ीसद इज़ाफ़ा

चीफ़ मिनिस्टर रियासत तेलंगाना के चन्द्र शेखर राव् ने अपने तमाम सरकारी मुलाज़िमीन, असातिज़ा और वर्कर्स के लिए पेरीवीझ़न कमीशन सिफ़ारिशात की रोशनी में तनख़्वाहों की बुनियादी याफ़्त पर (Basic-Pay) नज़र-ए-सानी ( रीवीझ़न) करते हुए मौजूदा बुनियादी

चीफ़ मिनिस्टर रियासत तेलंगाना के चन्द्र शेखर राव् ने अपने तमाम सरकारी मुलाज़िमीन, असातिज़ा और वर्कर्स के लिए पेरीवीझ़न कमीशन सिफ़ारिशात की रोशनी में तनख़्वाहों की बुनियादी याफ़्त पर (Basic-Pay) नज़र-ए-सानी ( रीवीझ़न) करते हुए मौजूदा बुनियादी याफ़्त में 43 फ़ीसद (फिटमेंट) का इज़ाफ़ा करने का एलान किया।

अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ ने हुकूमत के इस फ़ैसले से वाक़िफ़ किराया और बताया कि पेरीवीझ़न कमीशन ने अपनी रिपोर्ट में सिर्फ़ 29 फ़ीसद फिटमेंट का इज़ाफ़ा करने की सिफ़ारिश की थी लेकिन हुकूमत तेलंगाना ने अपने इख़तियार तमीज़ी से इस्तेफ़ादा करते हुए 29 फ़ीसद फिटमेंट में इज़ाफ़ा करने के बजाये 43फ़ीसद फिटमेंट का इज़ाफ़ा करने का फ़ैसला किया।

बताया जाता हैके साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर मुत्तहदा आंध्र प्रदेश रियासत के रोशिया ने 39 फ़ीसद फिटमेंट का इज़ाफ़ा किया था और इस पर अमल आवरी की थी। चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ ने कहा कि सरकारी मुलाज़िमीन की तनख़्वाहों के बुनियादी याफ़्त (Basic-Pay) पर अमल आवरी रियासत तेलंगाना की तशकील से यानी 2 जून 2014 से की जाएगी। लेकिन माह जून ता माह फ़रव‌री की इज़ाफ़ा शूदा रक़ूमात मुलाज़िमीन के प्रावीडेंट फ़ंड में जमा करदी जाएंगी।

इज़ाफ़ा शूदा तनख़्वाहें माह मार्च की तनख़्वाह यानी 01 अप्रैल को हासिल होने वाली तनख़्वाह से हासिल होंगी। इन इज़ाफ़ा शूदा तनख़्वाहों की रक़म माह जून के बाद रिटायर्ड होने वाले सरकारी मुलाज़िमीन को भी हासिल होगी। चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ ने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि सरकारी मुलाज़िमीन को फिटमेंट में इज़ाफे के बाइस हुकूमत तेलंगाना पर 6500करोड़ रूपियों का ज़ाएद माली बोझ आइद होगा।

चीफ़ मिनिस्टर ने अपनी हुकूमत को मुलाज़िमीन दोस्त हुकूमत से ताबीर किया और मुलाज़िमीन यूनीयन क़ाइदीन-ओ-मुलाज़िमीन से एक घंटा ज़ाएद काम करते हुए हुकूमत के माली वसाइल में इज़ाफ़ा करने के लिए इक़दामात की अपील की।

उन्होंने कहा कि रियासत तेलंगाना में क़ानूनसाज़ कौंसिल अरकान के लिए चुनाव मुनाक़िद होने वाले हैं और इन चुनाव का आलामीया जारी होने की सूरत में चुनाव ज़ाबता अख़लाक़ का नफ़ाज़ होजाएगा, इस दौरान हुकूमत कोई एलान करने के मौक़िफ़ में नहीं रहेगी जिस के पेशे नज़र अपने मुलाज़िमीन को इंतेज़ार करवाने के बजाये फ़िलफ़ौर मुलाज़िमीन की तनख़्वाहों में इज़ाफ़ा करदेने का हुकूमत ने फ़ैसला किया।

चीफ़ मिनिस्टर ने अलाहिदा तेलंगाना जद्द-ओ-जहद के मौके पर तेलंगाना मुलाज़िमीन की तरफ से की गई आम हड़ताल का तज़किरा करते हुए कहा कि अलाहिदा रियासत तेलंगाना के हुसूल में तेलंगाना के सरकारी मुलाज़िमीन ने अपना तारीख़ी रोल अदा किया था।

चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि माह मार्च की तनख़्वाह (यानी 01 अप्रैल को हासिल होने वाली तनख़्वाह) से इज़ाफ़ा शूदा तनख़्वाह की रक़म हासिल होने को यक़ीनी बनाने के लिए 6 फ़रव‌री को बाक़ायदा तौर पर अहकामात जारी किए जाऐंगे।

चन्द्रशेखर राव ने कहा कि पेरवीवीझ़न पर अमल आवरी में कोई नक़ाइस या कोताहियों और किसी नौईयत के मसाइल पेश आने की सूरत में उनकी यकसूई के लिए स्पेशल चीफ़ सेक्रेटरी प्रदीप चंद्र की सदारत में तशकील दी गई अनामिलीस कंपनी (Anamalies Comitee) कारकरद रहेगी और कोई भी किसी भी नौईयत की शिकायत रहने की सूरत में मुलाज़िमीन-ओ-यूनीयन क़ाइदीन रास्त उन से (प्रदीप चंद्र) नुमाइंदगी करसकते ह

TOPPOPULARRECENT