Monday , December 11 2017

तेलंगाना रियासत की तशकील सोनिया गांधी का कारनामा

कांग्रेस के साथ इंज़िमाम के वादा से इन्हिराफ़ पर टी आर एस को तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए कांग्रेस के नायब सदर राहुल गांधी ने अलाहिदा रयासत तेलंगाना की तशकील का सहरा अपनी वालिदा के सर बांधा और उन्होंने नई रियासत की तशकील की मुख़ालिफ़

कांग्रेस के साथ इंज़िमाम के वादा से इन्हिराफ़ पर टी आर एस को तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए कांग्रेस के नायब सदर राहुल गांधी ने अलाहिदा रयासत तेलंगाना की तशकील का सहरा अपनी वालिदा के सर बांधा और उन्होंने नई रियासत की तशकील की मुख़ालिफ़त करने पर तेलुगु देशम और बी जे पी को तन्क़ीद का निशाना बनाया।

राहुल गांधी ने महबूबनगर के ज़िला हैड क्वार्टर्स पर कांग्रेस के चुनाव जलसे से ख़िताब करते हुए कहा कि हक़ीक़त ये हैके सोनिया गांधी के बगै़र तेलंगाना की तशकील मुम्किन नहीं थी।

तेलंगाना में 30 अप्रैल को राय दही होने वाली है। उन्होंने कहा कि वो बहुत वाज़िह अंदाज़ में ये कहना चाहते हींका कांग्रेस के बगै़र तेलंगाना रियासत के क़ियाम का ख़ाब पूरा नहीं होसकता था।

मर्कज़ी वज़ीर एस जय्पाल रेड्डी महबूबनगर हलक़ा से कांग्रेस के उम्मीदवार हैं। राहुल गांधी ने कहा कि तेलुगु देशम पार्टी ने पार्लियामेंट में तेलंगाना बिल की मंज़ूरी को रोकने की कोशिश की और बी जे पी ने उसे राज्य सभा में रोकने की कोशिश की।

उन्होंने कहा कि जब तेलंगाना बिल की तैयारी हो रही थी और उसे पार्लियामेंट में मंज़ूर किया जा रहा था उस वक़्त टी आर एस ने कोई रोल अदा नहीं किया।

टी आर एस पर इक़तिदार की हवस का इल्ज़ाम लाग‌ते हुए उन्होंने कहा कि पार्टी ने तेलंगाना रियासत की तशकील के बाद अपनी पार्टी को कांग्रेस में ज़म करदेने का वादा किया था और ये भी वादा किया था कि किसी दलित को रियासत का पहला चीफ़ मिनिस्टर बनाया जाएगा लेकिन पार्टी अब ये भूल चुकी है।

टी आर एस अवाम से किए हुए वादे फ़रामोश करचुकी है। उन्होंने कहा कि नई रियासत जो 2 जून को वजूद में आ जाएगी एक एसी हुकूमत की ज़रूरत रखती है जो एक वीज़न के साथ तरक़्क़ी पर मबनी पालिसीयां शुरू करे और ये काम सिर्फ़ कांग्रेस ही करसकती है। उन्होंने कहा कि आंध्र प्रदेश की तक़सीम के बाद सीमांध्रा और तेलंगाना दोनों ही के अपने अपने ख़ाब हैं और उनकी पार्टी ( कांग्रेस ) दोनों रियासतों से किए गए वादों को पूरा करने की पाबंद है।

नई रियासत में समाजी इंसाफ़ को यक़ीनी बनाने पर ज़ोर देते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी चाहती हैके हर एक को साथ लिया जाये। हम ग़ुस्से की सियासत नहीं चाहते।

हम चाहते हैंके एससी एसटी बी सी अक़लियतों और ख़वातीन सब को तेलंगाना में हिस्सा हासिल रहे। उन्होंने एक ब्रांड तेलंगाना बनाने की ताईद की और कहा कि एसा करने से सनअती तरक़्क़ी होगी और रोज़गार के मवाक़े पैदा होंगे।

सारिफ़ीन की अश्या की तैयारी में चीन के बड़े रोल का तज़किरा करते हुए उन्होंने कहा कि एक दिन एसा आएगा जब मेड इन तेलंगाना और मेड इन इंडिया के ब्रांड सारी दुनिया में धूम मचाएं गे।

उन्होंने कहा कि तेलंगाना के नौजवानों को ये एहसास होना चाहीए कि हम ने ये पीदवार की है। नौजवानों की कसीर तादाद इस जलसे में शरीक रही। राहुल गांधी ने कांग्रेस हुकूमत की तरफ से शुरू करदा तरक़्क़ीयाती इसकीमात का तफ़सीली तज़किरा किया और कहा कि अब अवाम को सूचना चाहीए कि वो अपने छोटे ख़ाबों को बड़े ख़ाबों में तबदील करें और अब छोटे ख़ाब काम में आने वाले नहीं हैं।

TOPPOPULARRECENT