Friday , December 15 2017

तेलंगाना से इनकार पर कई क़ाइदीन के इस्तीफ़े मुम्किन

कांग्रेस रुक्न असेंबली आर दामोधर रेड्डी ने कहा कि अगर कांग्रेस हाईकमान अलिहदा तेलंगाना रियासत की तशकील (गठन) से इनकार करती है तो मर्कज़ी वज़ीर जय पाल रेड्डी के बिशमूल रियास्ती वुज़रा, कांग्रेस अरकान असेंबली और अरकान-ए-पार्लीमै

कांग्रेस रुक्न असेंबली आर दामोधर रेड्डी ने कहा कि अगर कांग्रेस हाईकमान अलिहदा तेलंगाना रियासत की तशकील (गठन) से इनकार करती है तो मर्कज़ी वज़ीर जय पाल रेड्डी के बिशमूल रियास्ती वुज़रा, कांग्रेस अरकान असेंबली और अरकान-ए-पार्लीमैंट बतौर-ए-एहतजाज कांग्रेस से मुस्ताफ़ी हो सकते हैं।अलिहदा फ्रंट की तशकील (गठन) पर भी ग़ौर किया जा रहा है।

तेलंगाना हामी मिस्टर दामोधर रेड्डी ने आज सहाफ़ीयों से बातचीत करते हुए कहा कि तेलंगाना का जज़बा देही इलाक़ों तक पहुंच गया है। तेलंगाना अवाम तेलंगाना मसला पर कोई समझौता नहीं करेंगे और ना ही कोई मुतबादिल क़बूल करेंगे।उन्हों ने कहा कि हम 9 दिसंबर का इंतिज़ार कर रहे हैं, हमें उम्मीद है कि हाईकमान तेलंगाना पर मुसबत रद्द-ए-अमल का इज़हार करेगी ।

मिस्टर दामोधर रेड्डी ने कहा कि सरबराह टी आर एस के चन्द्र शेखर राव की दुख़तर मिसिज़ कवीता, जो तेलंगाना जागृति की सदर भी हैं, का आइन्दा आम इंतिख़ाबात में सूर्य पेट से मुक़ाबला करने का इमकान है। अगर अलिहदा रियासत तशकील (गठन) नहीं दी गई तो कांग्रेस को बहुत बड़ा नुक़्सान होगा। देही इलाक़ों से क़ौमी सतह तक के क़ाइदीन मुस्ताफ़ी हो सकते हैं।

TOPPOPULARRECENT