Tuesday , December 12 2017

तेलंगाना क़ाइदीन के ख़िलाफ़ दर्ज मुक़द्दमात से दसतबरदारी का मुतालिबा

हैदराबाद। 7 नवंबर, ( सियासत न्यूज़ ) तेलंगाना राष़्ट्रा समीती अरकान असमबली-ओ-क़ाइदीन ने आज रियास्ती वज़ीर पंचायत मिस्टर के जाना रेड्डी के मकान के रूबरू धरना मुनज़्ज़म करते हुए एहतियाती इक़दामात के नाम पर तेलंगाना क़ाइदीन की गिरफ़्ता

हैदराबाद। 7 नवंबर, ( सियासत न्यूज़ ) तेलंगाना राष़्ट्रा समीती अरकान असमबली-ओ-क़ाइदीन ने आज रियास्ती वज़ीर पंचायत मिस्टर के जाना रेड्डी के मकान के रूबरू धरना मुनज़्ज़म करते हुए एहतियाती इक़दामात के नाम पर तेलंगाना क़ाइदीन की गिरफ़्तारीयों को रोकने और झूटे इल्ज़ामात के तहत दर्ज किए गए मुक़द्दमात से दसतबरदारी का मुतालिबा किया।

मिस्टर ई राजिंदर की ज़ेर क़ियादत टी आर ऐस अरकान असमबली मिस्टर टी हरीश राव, मिस्टर ए रवींद्र रेड्डी, मिस्टर के इश्वर के इलावा दीगर ने धरना मुनज़्ज़म करते हुए रियास्ती हुकूमत के ख़िलाफ़ नारे लगाई। अचानक शुरू हुई इस हंगामा आराई से बौखलाहट का शिकार जाना रेड्डी ने फ़ौरी अपने मकान से निकलते हुए टी आर ऐस क़ाइदीन को बातचीत केलिए अंदर आने की दावत दी।

जिस पर टी आर ऐस क़ाइदीन ने मुसबत रद्द-ए-अमल ज़ाहिर करते हुए रियास्ती वज़ीर की दावत को क़बूल किया और दो घंटों से ज़ाइद मुज़ाकरात के बाद ज़राए इबलाग़ के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए मिस्टर ई राजिंदर ने बताया कि रियास्ती वज़ीर ने तीक़न दिया है कि आइन्दा एहतियाती गिरफ़्तारी के नाम पर तेलंगाना क़ाइदीन को हिरासाँ नहीं किया जाएगा, और तेलंगाना के तमाम दस अज़ला में पी डी ऐक्ट के नाजायज़ इस्तिमाल को रोकने के मुम्किना इक़दामात किए जाएंगे।उन्हों ने बताया कि रियास्ती वज़ीर ने टी आर ऐस क़ाइदीन की मौजूदगे में वज़ीर-ए-दाख़िला से बात करते हुए उन्हें सूरत-ए-हाल से वाक़िफ़ करवाया।

जिस पर वज़ीर-ए-दाख़िला ने भी इस बात का तीक़न दिया कि वो चीफ़ मिनिस्टर और चीफ़ सैक्रेटरी से इस सिलसिला में बातचीत करते हुए इस बात को यक़ीनी बनाईंगे कि आइन्दा किसी भी तेलंगाना क़ाइद को एहतियाती गिरफ़्तारी के नाम पर हिरासाँ ना किया जाई। मिस्टर जाना रेड्डी ने दावा किया कि रियास्ती हुकूमत ने किसी भी शख़्स के ख़िलाफ़ नाजायज़ या झूटा मुक़द्दमा दर्ज नहीं किया है।

मिस्टर ई राजिंदर ने बताया कि तेलंगाना राष़्ट्रा समीती 11साल से तेलंगाना तहरीक चला रही है लेकिन कभी भी टी आर उसने तशद्दुद का सहारा नहीं लिया। उन्हों ने बताया कि इन ग्यारह बरसों के दौरान किसी भी तरह की ग़ैर जमहूरी हरकत टी आर इससे सरज़द नहीं हुई। मिस्टर ई राजिंदर ने डाक्टर वाई ऐस राज शेखर रेड्डी, मिस्टर एन चंद्रा बाबू नायडू और के रोशिया के दौर-ए-हकूमत का हवाला देते हुए कहा कि इन चीफ़ मिनिस़्टरों के दौर में भी तेलंगाना तहरीक को कुचलने केलिए इस तरह के सख़्त गेर इक़दामात नहीं किए गए थे लेकिन मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी तमाम हदूद को तोड़ते हुए तेलंगाना तहरीक को कुचलने केलिए कोशिशें कररहे हैं।

मिस्टर हरीश राव ने बताया कि अगर रियास्ती हुकूमत का यही रवैय्या बरक़रार रहता है तो ऐसी सूरत में रियास्ती हुकूमत को तेलंगाना अवाम की ब्रहमी का सामना करना पड़ेगा।उन्हों ने बताया कि हुकूमत की जानिब से एहतियाती इक़दामात के नाम पर गिरफ़्तारी के क़ानून का नाजायज़ इस्तिमाल किया जा रहा है जिसे तेलंगाना क़ाइदीन और तेलंगाना अवाम बर्दाश्त नहीं करेंगे।

TOPPOPULARRECENT