Friday , December 15 2017

तेल की कीमतों में कमी से चीन की दौलत में इज़ाफ़ा

वस्त एशिया की अपनी गैस पाइपलाइन से हासिल होने वाले मुनाफ़ा और ख़ाम तेल की कीमतों में बैनुल अक़वामी मंडी में कमी से तवानाई की क़िल्लत का शिकार चीन ना सिर्फ़ अपनी बर्क़ी तवानाई के तहफ़्फ़ुज़ को यक़ीनी बना चुका है बल्कि उस ने तेल के जार

वस्त एशिया की अपनी गैस पाइपलाइन से हासिल होने वाले मुनाफ़ा और ख़ाम तेल की कीमतों में बैनुल अक़वामी मंडी में कमी से तवानाई की क़िल्लत का शिकार चीन ना सिर्फ़ अपनी बर्क़ी तवानाई के तहफ़्फ़ुज़ को यक़ीनी बना चुका है बल्कि उस ने तेल के जारीया साल के बिल्स में 30 अरब अमरीकी डॉलर की ख़तीर रक़म बचा ली है।

इलावा अज़ीं बैरूनी ममालिक से तिजारत के ज़रीए 47 अरब अमरीकी डॉलर हासिल किए हैं। चीन की क़ुदरती गैस की दरआमदात चीन – वस्त एशिया गैस पाइपलाइन के ज़रीए से अक्टूबर तक 6 करोड़ 50 लाख टन से ज़्यादा हो चुकी थी।

तेल और गैस की कीमतों में आलमी मंडी में कमी की वजह से चीन को गैस के बिल्स अदा करने में काफ़ी बचत हुई जिस की वजह से उस की दौलत में नुमायां इज़ाफ़ा हुआ है।

TOPPOPULARRECENT