Saturday , December 16 2017

तोगडिया का मुफ्ती पर खतरनाक बयान

विश्व हिंदू परिषद के सदर प्रवीण तोगडिया ने कहा कि भारत एक हिंदू मुल्कर है और आईन को बदलवाकर इसे हिंदू मुल्क ऐलान कराना विहिप का टार्गेट हैं।

विश्व हिंदू परिषद के सदर प्रवीण तोगडिया ने कहा कि भारत एक हिंदू मुल्कर है और आईन को बदलवाकर इसे हिंदू मुल्क ऐलान कराना विहिप का टार्गेट हैं।

हिंदुस्तान में हिंदू अक्लियत बनने की कगार पर जा रहा है। ये बातें तोगडिया ने नूंह खंड के गांव किरा वाकेय् वीरभगत सिंह गौशाला में मुनाकिद कांफ्रेंस में मौजूद लोगों से खिताब करते हुए कहा।

तोगडिया ने कहा कि विश्व हिंदू परिषद 50 साल पहले दुनियाभर में बसे हिंदुओं की आवाज बनी और आज उन्हें शान व शौकत तक पहुंचाने में जुटी है। उन्होंने कहा कि असली जश्न तब मनेगा तब अयोध्या में राम मंदिर बनेगा और 25 साल पहले कश्मीर से भगाए गए 4 लाख हिंदुओं को दोबारा वहां बसाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि मुल्क को तक्सीम का ज़हर देने वाले मोहम्मद अली जिन्ना का नाम मिटाकर रावलपिंडी और लाहौर में तिरंगा नहीं फहराया जाता, तब तक कोई उत्सव नहीं मनाया जाएगा। जम्मू-कश्मीर के नवनियुक्त मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद की तरफ से पाकिस्तान व हुर्रियत की ब़डाई करने के सवाल पर प्रवीण तोगडिया ने कहा कि वे एक ऐसे इंसान हैं जो हिंदुस्तान का खाते हैं लेकिन गीत पाकिस्तान के गाते हैं।

वे एक दहशतगर्द थे। 1990 में अपनी बेटी को आड़ बनाकर उन्होंने दहशतगर्दो को छुडाया था तो अमरनाथ यात्रा को रूकवाने में भी उन्हीं का हाथ था। वे तो साबिक पाकिस्तानी हैं।

हिंदू एमएलए की मदद से वज़ीर ए आला बनकर इस तरह की बयानबाजी सिर्फ एक मुसलमान ही कर सकता है। तोगाड़िया ने कहा हि कि आज सेक्युलर का चोला पहनकर अपनी सियासत चमकाने के लिए कुछ सियासतदां धर्मांतरण का एहतिजाज और मुखालिफत कर रहे हैं लेकिन वे उनसे पूछना चाहते हैं कि धर्मांतरण कौन चाहता है।

ज़मीन पर 2 हजार साल पहले न तो ईसाई मज़हब था और न ही मुस्लिम मज़हब । हिंदुओं का धर्मांतरण हुआ और ये मज़हब बने। 2 हजार साल पहले हिंदुओं का धर्मांतरण न हुआ होता तो आज न तो पाकिस्तान होता और न अमेरिका।

TOPPOPULARRECENT