Saturday , September 22 2018

त्रिपुरा में अगर CPM बीजेपी को हराती है तो मुझे खुशी होगी- ममता बनर्जी

अपनी विरोधी पार्टी सीपीएम को हराकर पश्चिम बंगाल में सत्ता में आई तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी के दिल में अभी भी विपक्ष के प्रति सम्मान है और वह त्रिपुरा में उसकी जीत की तमन्ना कर ख़ुशी जाहिर करने की बात करने के साथ ही कम्युनिस्ट पार्टी को आईना भी दिखा दिया

दरअसल हुआ यूँ कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विधानसभा में सीपीएम विधायक सुजान चक्रवर्ती से मुखातिब होते हुए कहा कि वे विपक्ष विहीन सरकार के पक्ष में नहीं है।

आप त्रिपुरा में चुनाव हारने की कगार पर हैं। मुझे खुशी होती कि अगर आप बीजेपी को हराने को ध्यान में रखते। ममता यहीं नहीं रुकी और उन्होंने सीपीएम को आईना दिखाते हुए कहा कि झूठे अहंकार की वजह से आप गिरते ही चले जा रहे हैं।

उन्होंने इस मौके पर सीपीएम के लालू यादव की बीजेपी-विरोधी रैली में शामिल होने का भी जिक्र किया। गौरतलब है कि एग्जिट पोल्स की मानें तो बीजेपी त्रिपुरा में 60 में से 35 से ज्यादा सीटें हासिल कर सत्ता में पहली बार आ सकती है।

त्रिपुरा में 89.8 फीसदी वोटिंग होने से यह हालात बने हैं.ममता ने 23 मार्च को होने वाले पश्चिम बंगाल की पांच राज्यसभा सीटों पर तृणमूल कांग्रेस के प्रत्याशियों को उतारने की नीति से समझौता नहीं किया है।

तृणमूल कांग्रेस के विधायकों की संख्या 212 है. जबकि कांग्रेस के पास 34 और सीपीएम के पास 29 विधायक हैं जो एक सीट के लिए 49 विधायकों के आंकड़े से बहुत दूर है।

TOPPOPULARRECENT