Saturday , April 21 2018

त्रिपुरा: लगातार 5वीं बार जीते माणिक सरकार, चुनाव आयोग से शिकायत के बाद रिकाउंटिंग से हुआ फैसला

पूर्वोत्तर के तीन राज्यों के  चुनावों की तस्वीर अब साफ हो गई है. त्रिपुरा की 59 सीटों के नतीजे शनिवार को आ गए. त्रिपुरा विधानसभा चुनाव 2018 में बीजेपी ने 35 सीटों पर जीत दर्ज की है, जबकि 25 साल से सत्ता में काबिज सीपीआई (एम) को सिर्फ 16 सीटों से संतोष करना पड़ा. वहीं IPFT को 8 सीटों पर जीत मिली है. हालांकि सीएम माणिक सरकार की सीट पर विवाद हो गया था. इस वजह से इस सीट पर देर शाम तक रिकाउंटिंग चली.

काफी देर तक रिकाउंटिंग के बाद माणिक सरकार  को 5142 वोटों से जीत हासिल हुई. माणिक सरकार धानपुर सीट से चुनाव मैदान में खड़े हुए थे. काउंटिंग की शुरुआत में माणिक सरकार विरोधी पार्टी के उम्मीदवार से पीछे चल रहे थे. वहीं विवाद होने पर सीपीएम ने काउंटिंग में गड़बड़ी का आरोप लगाया और चुनाव आयोग से शिकायत दर्ज करवाई. खुद माणिक सरकार का बयान आया कि काउंटिंग में फर्जीवाड़ा करने की कोशिश हुई है, साथ ही उन्होंने बीजेपी के कार्यकर्ताओं पर माहौल खराब करने की कोशिश करने का भी आरोप लगाया.

आपको बता दें कि माणिक सरकार ने 1998 में पहली बार धानपुर से चुनाव जीता था ,तब वे पहली बार राज्य के मुख्यमंत्री बने थे. माणिक सरकार की छवि ईमानदार नेता की है, इसलिए सीपीएम के नेतृत्व वाले लेफ्ट फ्रंट ने इस बार भी उनके नेतृत्व में ही चुनाव लड़ा. हालांकि इस बार लेफ्ट फ्रंट की सरकार बनाने का उनका सपना अधूरा रह गया. माणिक सरकार ने बीजेपी की प्रतिमा भौमिक को हराया.

 

TOPPOPULARRECENT