थाईलैंड हलाल उत्पादों का केंद्र बनेगा

थाईलैंड हलाल उत्पादों का केंद्र बनेगा
Click for full image

थाईलैंड की सैन्य सरकार के प्रमुख ने देश के गरीब जनता और हिंसक बगावती कृत्यों का निशाना बने मुसलमान बहुल दक्षिणी प्रांतों को हलाल वस्तुओं के उत्पादन का केंद्र बनाने की प्रतिबद्धता व्यक्त की है।

थाई भूमि के दक्षिणी प्रांत वर्ष 2004 से हिंसक कृत्यों का निशाना बनते आ रहे हैं। इन कार्यों में करीब छह हजार पांच सौ लोग मारे गए हैं। इसके अलावा थाईलैंड के इस अर्थव्यवस्था को भी बहुत नुकसान पहुंचा है, जिसका अधिकांश दारोमदार कृषि पर है।

थाईलैंड में तकरीबन रोजाना होने वाली गोलीबारी और बम विस्फोट की घटनाएं अंतरराष्ट्रीय अखबारों में हेडलाइन्स बनते हैं। जबकि थाई सरकार पर देश की दुर्दशा की अनदेखी करने का आरोप है। जनरल परायुत चान उचा की सैन्य सरकार जो सन 2014 में एक तख्तापलट के परिणाम में स्थापित हुई थी, विद्रोहियों के साथ शांति वार्ता बहाल करने में विफल रही है।

सोमवार को जनरल परायुत चान उचा ने थाईलैंड के सबसे पिछड़े क्षेत्रों में से एक में जारी हिंसा की लहर के बावजूद वहां निवेश करने की प्रतिबद्धता जताई है। परायुत मलेशिया की सीमा चार परेशान राज्यों में से एक, नाराठीवाट के एक असाधारण दौरे के दौरान कहा, ” समय आ गया है कि यहां अच्छे आर्थिक गतिविधियां सक्रिय की जाएं। हमें इस क्षेत्र के लिए सब कुछ करना होगा। ”

Top Stories