Thursday , April 19 2018

थाने में लाकर बीजेपी नेता की पुलिस ने की पीटाई, तीन पुलिसकर्मियों को किया गया सस्पेंड

जिले में हेलमेट चैकिंग के दौरान पुलिस और भाजपा नेता के बीच विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि पुलिस के सिपाहियों ने भाजपा नेता की पिटाई कर दी।घटना बुधवार की सिहोरा थाना अंतर्गत एनएच 7 की है। पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई। मामले की बाद से ही जिले भर में हड़कंप मचा हुआ है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बुधवार को सिहोरा थाना अंतर्गत एनएच 7 पर पुलिस द्वारा हेलमेट चेकिंग की जा रही थी। तभी ग्राम पोंड़ी पिपरिया निवासी वीरेंद्र गुप्ता बिना हेलमेट चैकिंग में पकड़ा गये। 250 रुपए जुर्माना लगाने पर उनकी पुलिस कर्मियों से झड़प हो गई।

हालांकि उन्होंने जुर्माना भर दिया, लेकिन मौके पर मौजूद पुलिस कर्मी राहुल उपाध्याय और त्रिलोक ने उनके साथ मारपीट कर दी। वीरेन्द्र ने इसकी जानकारी भाजपा ग्रामीण के महामंत्री राजेश दहिया को दी। मौके पर पहुंचे भाजाप नेता और सिपाहिया में मारपीट को लेकर तू-तू, मैं-मैं हो गई।

बात इतनी बढ़ गई कि दोनों पक्षों में हाथापाई होने लगी। सिपाही ने पहले तो भाजपा नेता को दूर तक घसीटा और फिर जमकर पिटाई कर दी। पुलिसकर्मियों ने राजेश को बुरी तरह पीटते हुए थाने तक लेकर आए। थाने के अंदर भी पुलिसकर्मियों ने राजेश साथ जमकर मारपीट की। टीआई ने जब ये देखा तो भाजपा नेता को सिपाहियों से बचाया।

घटना के बाद जमकर बवाल मच गया। नेता समर्थक थाने का घेराव करने पहुंच गए। घटना की खबर मिलते ही एएसपी समेत कई पुलिस बल थाने पहुंच गया।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण संजय साहू, एसडीओपी अशोक तिवारी, टीआई संजय दुबे आक्रोशितों को समझाने और घटना के लिए दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आश्वासन देने में लगे थे, लेकिन आक्रोशित अपनी मांग को लेकर अड़े थे। कार्यकर्ताओं ने देर रात तक हंगामा किया और मारपीट करने वाले आरक्षकों के खिलाफ एससी-एसटी के तहत मामला दर्ज करने की मांग पर अड़े रहे।

मामले को बढ़ता देख तीन पुलिसकर्मियों राहुल उपाध्याय, त्रिलोक पारथी और संदीप द्विवेदी को निलंबित कर दिया गया है। वही एसडीओपी को इसकी जांच सौपी गई है, जो तीन दिनों में रिपोर्ट सौपेंगें। रिपोर्ट के खुलासे के बाद ही मामले में आरोपी आरक्षकों पर प्रकरण तर्ज किया जा सकेगा।

वही पूरी घटना सीसीटीवी मे भी कैद हो गई है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर ही तीनों पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

TOPPOPULARRECENT