Monday , December 18 2017

थोक भाव में डीजल एक रुपये महंगा

नई दिल्ली, 03 मार्च: (पी टी आई) डीज़ल की भारी मिक़दार में ख़रीदारी करने वाले सारिफ़ीन जैसे रेलवेज़ वग़ैरा के लिए उसकी क़ीमत में फ़ी लीटर एक रुपया इज़ाफ़ा किया गया है।

नई दिल्ली, 03 मार्च: (पी टी आई) डीज़ल की भारी मिक़दार में ख़रीदारी करने वाले सारिफ़ीन जैसे रेलवेज़ वग़ैरा के लिए उसकी क़ीमत में फ़ी लीटर एक रुपया इज़ाफ़ा किया गया है।

ताहम बगै़र सब्सीडी वाले पकवान गैस सिलेंडर्स (एल पी जी) की क़ीमत में 37.50 रुपये की कमी की गई है। पैट्रोल पंप पर फ़रोख़्त किए जाने वाले डीज़ल और सब्सीडी पर दिए जाने वाले एलपी जी सिलेंडर्स की क़ीमत में कोई तब्दीली नहीं हुई। हुकूमत ने जनवरी में सरकारी मिल्कियत की हामिल तेल की कंपनीयों को अपने तमाम सारिफ़ीन को मार्केट की क़ीमत के मुताबिक़ डीज़ल फ़रोख़्त करने की इजाज़त दे दी थी।

इस फ़ैसला के मुताबिक़ ऑयल कंपनीयां भारी मिक़दार में डीज़ल ख़रीदने वाले सारिफ़ीन जैसे डीफ़ेंस, रेलवेज़, स्टेट रोड ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन को 58.58 रुपये फ़ी लीटर डीज़ल फ़रोख़्त कर रही हैं जबकि आम सारिफ़ीन के लिए जो पेट्रोल पंप्स के ज़रीया चिल्लर डीज़ल हासिल करते हैं, उसकी क़ीमत दिल्ली में 48.16 रुपये फ़ी लीटर है।

सनअती ज़राए ने बताया कि तेल की फर्म्स ने कल रात ज़्यादा मिक़दार में डीज़ल हासिल करने वाले सारिफ़ीन के लिए क़ीमत में 94 पैसे का इज़ाफ़ा किया है जिस में लोकल सेल्स टैक्स या व्याट् ( VAT) शामिल नहीं। अगर इन टैक्सेस को शामिल कर लिया जाये तो मजमूई तौर पर तक़रीबन 1.25 रुपये फ़ी लीटर का इज़ाफ़ा होगा।

बताया जाता है कि बैन-उल-अक़वामी सतह पर तेल की क़ीमतों से मुताबिक़त के लिए डीज़ल की क़ीमत में इज़ाफ़ा नागुज़ीर हो गया है। आम सारिफ़ीन के लिए क़ीमत में इज़ाफ़ा ना करने पर तेल की कंपनीयों को डीज़ल पर फ़ी लीटर 11.26 रुपय का नुक़्सान बर्दाश्त करना पड़ रहा है।

TOPPOPULARRECENT