Tuesday , January 23 2018

दयाशनकर अब तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर

लखनऊ: भाजपा से निलंबित नेता दया शंकर सिंह की खोज के लिए पुलिस ने कल शब भर धावे जारी जबकि छुपा नेता व्यक्तियों परिवार ने धमकी दी है कि मायावती और वरिष्ठ बसपा नेता के खिलाफ अश्लील भाषा इस्तेमाल करने पर एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी। पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार झा ने बताया कि कल रात भर धावे किए गए लेकिन भगोड़े नेता के बारे में कोई सुराग नहीं मिला। हालांकि अपुष्ट खबरों में कहा गया है कि दयाशनकर सिंह बहुत जल्द लखनऊ की अदालत में आत्मसमर्पण विकल्प होगा।

उन्होंने बताया कि पूछताछ के लिए सिंह के भाई धर्मेंद्र को हिरासत में ले लिया गया है लेकिन वह कोई सूचना प्रदान करने में असमर्थ रहे। बताया जाता है कि दयाशनकर 21 जुलाई को गोरखपुर रवाना हो गए तब कोई संपर्क स्थापित नहीं हो सका क्योंकि उनका मोबाइल भी बंद कर दिया गया है।

इस बीच दयाशनकर सिंह की पत्नी स्वाती ने कहा कि महिलाओं की गरिमा की दुहाई देने वाले किस तरह की भाषाण‌ का प्रयोग कर रहे हैं जबकि बसपा नेताओं की अपमानजनक मेरे कमसिन लड़की सकतह में आ गई है। उन्होंने बताया कि मेरे पति राजनीति में हैं लेकिन राजनीति से हमारा कोई संबंध नहीं है। इसके बावजूद हमारे परिवार को विवाद में घसीटा जा रहा है। उन्होंने मायावती से क्वेरी किया कि पार्टी नेता नसीमुद्दीन के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की। जिन्होंने मेरी सास (दयाशनकर माँ) के खिलाफ मख़रब संहिता भाषा का प्रयोग किया है ..

TOPPOPULARRECENT