Monday , December 11 2017

‘दरअंदाज़ी और स्मगलिंग रोकेगी बी एस एफ़ ‘

बी एस एफ़ के इंस्पेक्टर जनरल बराए मिज़ोरम-ओ-काचार सरहद दिनेश कुमार उपाध्याय ने कहा कि वो दरअंदाज़ी स्मगलिंग और सरहद पार जराइम के इंसिदाद पर ख़ुसूसी तवज्जे देंगे। उपाध्याय ने 19मई को अपना ओहदा सँभाला है। उन्होंने कहा कि बंगला देश के स

बी एस एफ़ के इंस्पेक्टर जनरल बराए मिज़ोरम-ओ-काचार सरहद दिनेश कुमार उपाध्याय ने कहा कि वो दरअंदाज़ी स्मगलिंग और सरहद पार जराइम के इंसिदाद पर ख़ुसूसी तवज्जे देंगे। उपाध्याय ने 19मई को अपना ओहदा सँभाला है। उन्होंने कहा कि बंगला देश के सरहदी मुहाफ़िज़ीन के साथ ख़ुशगवार ताल्लुक़ात बरक़रार रखने पर ख़ुसूसी तवज्जे दी जाएगी।

उन्होंने उनकी कमांड के सिपाहीयों को हिदायत दी कि अवाम के साथ ख़ैरसिगाली के और अच्छे ताल्लुक़ात क़ायम रखे जाएं जो इस इलाक़ा में मुक़ीम हैं। बी एस एफ़ के एक सहाफ़ती बयान में कहा गया है कि उपाध्याय 1984 बैच‌ के ओहदेदार हैं और उन्हें नुमायां ख़िदमात अंजाम देने पर सदर जम्हूरिया पर तमग़ा और दिलेरी की ख़िदमात पर पुलिस का तमग़ा हासिल होचुके हैं।

वो कमांड और स्टाफ़ की सतह दोनों पर कई ओहदों पर फ़ाइज़ रह चुके हैं और अहम कारनामे बिशमोल वादी कश्मीर में अस्करीयत पसंदी के ख़िलाफ़ जंग अंजाम दे चुके हैं। वो आला सतही ख़ुसूसी तहफ़्फ़ुज़ ग्रुप ( एस पी जी ) में भी ख़िदमात अंजाम दे चुके हैं और वज़ीर-ए-आज़म की हिफ़ाज़त की टीम में भी शामिल थे।

आसाम की बंगला देश से मतसला सरहद इंतेहाई मख़दूश इलाक़ा है जहां से मुनश्शियात असलाह और इंसानी स्मगलिंग के अलावा दरअंदाज़ी के वाक़ियात भी रोज़ का मामूल हैं।

TOPPOPULARRECENT