Wednesday , November 22 2017
Home / World / दरख़ास्त मिली तो लड़ाका फ़ौजी शाम भेज सकते हैं – रूस

दरख़ास्त मिली तो लड़ाका फ़ौजी शाम भेज सकते हैं – रूस

Äìèòðèé Ïåñêîâ (Ïðåññ-ñëóæáà Àïïàðàòà ïðàâèòåëüñòâà ÐÔ) ïðîâîäèò ñåìèíàð "Òðåíäû ðàçâèòèÿ ÑÌÈ è àêòóàëüíûå âîïðîñû âçàèìîäåéñòâèÿ ïðåññ-ñëóæá è æóðíàëèñòîâ". Ñåìèíàð îðãàíèçîâàí àãåíòñòâîì ÐÈÀ Íîâîñòè â Ó÷åáíî-ìåòîäè÷åñêîì öåíòðå "Ãîëèöûíî".

रूस ने कहा है कि अगर सदर बशार अलासद की हुकूमत ने दरख़ास्त की तो वो अपने लड़ाका फ़ौजी दस्ते शाम भेजने पर ग़ौर कर सकता है। जुमे को मास्को में सहाफ़ीयों से गुफ़्तगु करते हुए रूसी सदर विलादिमीर पुतीनन के तर्जुमान दमीतरी पेस्कोफ़ ने कहा कि अगर शामी हुकूमत ने ऐसी कोई दरख़ास्त की तो बाहमी ताल्लुक़ात की नौईयत और दो तरफ़ा मुआहिदों के पेशे नज़र रूस ज़रूर इस पर ग़ौर करेगा।

सहाफ़ीयों ने रूसी तर्जुमान से शामी वज़ीरे ख़ारिजा वलीद अल मालम के गुज़िश्ता रोज़ के बयान पर रद्दे अमल मांगा था जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर ज़रूरत पड़ी तो उनकी हुकूमत शामी अफ़्वाज की मदद के लिए रूस से फ़ौजी दस्ते भेजने की दरख़ास्त करेगी।

दमीतरी पेस्कोफ़ का ये बयान रूसी क़ियादत की जानिब से शाम में जारी बोहरान में रूस की फ़ौजी मुदाख़िलत पर आमादगी का अब तक मिलने वाला सबसे वाज़ेह इशारा है।

TOPPOPULARRECENT