Tuesday , June 19 2018

दर्ज फ़हरिस्त कंपनीयों के हिसस की मालूमात में कोताहियों का इन्किशाफ़

नई दिल्ली, 15 जनवरी: ( पी टी आई ) मार्केट अथॉरीटी की ज़ेर निगरानी 500 से ज़्यादा वाक़ियात आ चुके हैं जिनसे ज़ाहिर होता है कि दर्ज फ़हरिस्त कंपनीयों के हिसस के बारे में दस्तयाब मालूमात में कोताहियों पाई जाती हैं ।

नई दिल्ली, 15 जनवरी: ( पी टी आई ) मार्केट अथॉरीटी की ज़ेर निगरानी 500 से ज़्यादा वाक़ियात आ चुके हैं जिनसे ज़ाहिर होता है कि दर्ज फ़हरिस्त कंपनीयों के हिसस के बारे में दस्तयाब मालूमात में कोताहियों पाई जाती हैं ।

इलावा अज़ीं रहन रखे हुए हिसस से मुताल्लिक़ ग़लत मालूमात भी दर्ज की गई है जो हिसस की जुमला तादाद से हम आहंग नहीं है । स्टाक एक्सचेंज्स के साथ अपने मुआहिदों की तफ़सील की फ़हरिस्त में हिस्सेदारों में अंदरून 21 दिन मख़सूस फॉर्मेट में हर ज़ुमरे का तजज़िया करते हुए वेबसाईट्स ब्रोकर्स ने सरमायाकारों के फ़ायदे के लिए इन कोताहियों का इन्किशाफ़ किया है ।

ताहम स्टाक एक्सचेंज्स को ऐसे मुतअद्दिद मुआमलात का तजुर्बा हो चुका है जहां कंपनीयों ने या तो मालूमात दाख़िल ही नहीं किए या क़तई आख़िरी मोहलत के ख़त्म हो जाने के बाद मालूमात फ़राहम की गई या मुसलसल कई माह तक मालूमात दाख़िल करने से गुरेज़ किया गया । इस के इलावा कंपनीयों की फ़राहम करदा मालूमात में ऐसे सैंकड़ों मुआमलात हैं जिनके हिसस की तादाद में फ़र्क़ पाया जाता है ।ताज़ा तरीन मालूमात के बमूजब बी एस ई के ब्रोकर्स ने जारीया माह कार्रवाई का आग़ाज़ करते हुए 450 से ज़्यादा ऐसी कंपनीयों का पता चलाया है ।

TOPPOPULARRECENT