दलबदल नेताओं को पार्टी टिकट देने का वादा नहीं किया गया

दलबदल नेताओं को पार्टी टिकट देने का वादा नहीं किया गया
Click for full image

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा में दलबदल नेताओं के शामिल होने से पार्टी के मूल कार्यकर्ताओं असुरक्षित हो गए हैं। जिस पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष केशव राव मौर्य ने कहा है कि किसी भी नेता को पार्टी टिकट देने का वादा नहीं किया गया है। उन्होंने बताया कि बसपा और सपा से जो नेता भाजपा में शामिल हो रहे हैं। उन्हें प्रस्तावित चुनाव के लिए पार्टी टिकट देने का यकीन नहीं दिया गया।

जबकि यह नेता पार्टी की नीतियों और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रदर्शन पर भरोसा जता रहे हैं। श्री मौर्य ने कहा कि संभावित उम्मीदवारों के नाम विचाराधीन है लेकिन यह सोचना गलत है कि भाजपा में शामिल होने वालों को टिकट दिया जाएगा। उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं से यह स्पष्ट कर दिया कि उनके सम्मान और गरिमा का सम्मान किया जाएगा चूंकि भाजपा के आधार कैडर पर निर्भर करता है और उनके इच्छाओं और अपेक्षाओं भी होती हैं।

इसलिए कोई कार्यकर्ता अपने प्रयासों से उच्च स्थान तक पहुंच सकता है। यह आवश्यक नहीं है कि विधायक के पुत्र विधायक हो और सांसद का बेटा एमपी हो। उन्होंने बताया कि प्रस्तावित विधानसभा चुनावों के लिए सैकड़ों आवेदन प्राप्त हुए हैं लेकिन मेरा यक़ीन‌ है कि अनुशासन वर्कर्स पार्टी के अंतिम फैसला प्रतिबंध होगा। उन्होंने यह पेश क़ियासी की है कि 403 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा 300 से अधिक सीटों पर जीत हासिल कर लेगी।

नोटों को रद्द करने पर उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के हित में यह फैसला किया है कि 98 प्रतिशत जनता का समर्थन प्राप्त है जबकि धन के बलबूते पर चुनाव लड़ने के लिए वही लोग चिंतित हैं क्योंकि नोट बदले वोट हासिल करने का सपना चकनाचूर हो गया है ..

Top Stories