दलितों को मिलने वाले रिजर्वेशन के खिलाफ़ कल भारत बंद, एलर्ट जारी, लगाए जा सकते हैं धारा 144

दलितों को मिलने वाले रिजर्वेशन के खिलाफ़ कल भारत बंद, एलर्ट जारी, लगाए जा सकते हैं धारा 144

कुछ संगठनों ने 10 अप्रैल को भारत बंद करने का आह्वान किया है।
यह बंद दलितों को दिए जाने वाले आरक्षण के खिलाफ़ बुलाई गई है। भारत बंद के मद्देनजर केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने एडवाइजरी जारी कर राज्यों सरकारों को सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने को कहा है। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सोशल मीडिया के माध्यम से कुछ संगठनों ने कल भारत बंद का आह्वान किया है।

इसे देखते हुए मंत्रालय ने राज्यों को सुरक्षा बढ़ाने और किसी अप्रिय स्थिति को रोकने के लिए समुचित इंतजाम करने को कहा है। जरूरत पडऩे पर राज्य प्रभावित क्षेत्रों में निषेधाज्ञा लागू कर धारा 144 भी लगा सकते हैं।

अधिकारी के अनुसार राज्य सरकारों को निर्देश दिये गये हैं कि वे जरूरत के अनुसार सुरक्षा कर्मियों की गश्त बढ़ाएं जिससे जान-माल के नुकसान पर रोक लगायी जा सके।

राज्यों को जारी की गई सलाह में स्पष्ट किया गया कि जिला मजिस्ट्रेट और पुलिस अधीक्षक को अपने-अपने क्षेत्रों में कानून-व्यवस्था की स्थिति नियंत्रण में रखने की जिम्मेदारी पर सख्ती से अमल करने को कहा जाये।

रिपोर्ट के अनुसार इन संगठनों ने नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में अनुसूचित जाति और जनजाति समुदाय को दिये जा रहे आरक्षण के विरोध में बंद का आह्वान किया है।

गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय द्वारा अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के बारे में हाल में दिये गये फैसले के विरोध में दलित संगठनों ने दो अप्रैल को देश भर में बंद का आयोजन किया था। इस दौरान हुई हिंसा में कुछ लोग मारे गये थे और कई घायल हो गये थे।

Top Stories