Thursday , February 22 2018

दलित शख्स के क़त्ल के लिए रिश्तेदार गिरफ़्तार , “ऑनर किलिंग” के इमकान से इनकार

kills

बाड़मेर :पुलिस ने आज, एक 20 साला दलित शख्स अजय वाल्मीकि, जिसका जिस्म मसख़ हालत में मिला था के क़त्ल केस को सुलझाने का दावा किया है, और इस क़त्ल में मुब्यना तौर पर क़त्ल किये गये शख्स के चचेरे भाई को गिरफ्तार किया है |

जबकि कुछ समाजी कारकुनों ने इस क़त्ल को ऑनर किलिंग के तौर किया गया क़त्ल बताया था| लेकिन पुलिस ने बताया की समाजी कारकुनों के ऑनर किलिंग इमकानात से इनकार करते हुए ,राहुल वाल्मीकि को अपने चचेरे भाई अजय, जो की एक सफाई कर्मचारी था, के साथ हुए झगडे के बाद उसके क़त्ल के इल्ज़ाम में गिरफ़्तार कर लिया गया है |

उन्होंने बताया कि 27 नवंबर और 28 की दरमियानी रात, जो क़त्ल से पहले की रात थी राहुल और अजय एक साथ शराब लेने गए थे, उसी दौरान पहले हुए किसी झगड़े की वजह से अजय का क़त्ल किया गया |झगड़े की वजह मालूम नहीं हो सकी है|

पुलिस ने बताया कि ,अजय वाल्मीकि का जिस्म मसख़ हालत में 28 नवंबर की सुबह एक सरकारी स्कूल की इमारत के पीछे पाया गया था|
एस पी अनिल पारिस ने बताया कि, “शक की बुन्याद पर राहुल को हिरासत में लिया गया था लेकिन उसके खानदान वालों ने दावा किया था की वह बेकुसूर है इसलिए उसको छोड़ दिया गया |उन्होंने बताया कि मुकम्मल तहक़ीकात के बाद उसको गुज़िश्ता रत गिरफ़्तार किया गया है” |

वाल्मीकि समाज के लोगों ने और कुछ समाजी कारकुनों ने मुलज़िम की गिरफ़्तारी के मुतालबे के लिए धरने और बंद के जरिए एहतेजाज कर रहे थे

TOPPOPULARRECENT