Monday , December 11 2017

दसवीं जमात के नतीजों का आज नहीं कल एलान

चुनाव‌ मुहिम की वजह से प्रोग्राम रोक दीया गया, वज़ीर सानवी तालीम की तरदीद हैदराबाद । (सियासत न्यूज़) राजय‌ में माह मार्च / अप्रैल 2012 एस एस सी इम्तेहानात के नतीजें जो 23 मई को जारी किए जाने वाले थे लेट‌ कर दिए गए ।

चुनाव‌ मुहिम की वजह से प्रोग्राम रोक दीया गया, वज़ीर सानवी तालीम की तरदीद
हैदराबाद । (सियासत न्यूज़) राजय‌ में माह मार्च / अप्रैल 2012 एस एस सी इम्तेहानात के नतीजें जो 23 मई को जारी किए जाने वाले थे लेट‌ कर दिए गए ।

राजय‌ सानवी तालीम मंत्री मिस्टर पार्था सारथी 24 मई को 11.00 बजे दिन ये नतिजें जारी करेंगे । डायरेक्टर सरकारी इम्तेहानात मिस्टर मनमदा रेड्डी ने कहा कि बाज़ नागुज़ीर वजूहात की बिना नतीजों को जारी करने को मुल्तवी करना पड़ा।

दसवीं जमात के सालाना नतीजों को फिर एक दिन के लिए मुल्तवी कर देने से लाखों स्टुडंट‌ और उन के सरपरस्तों में गम‍ ओर ग़ुस्सा की लहर देखी जा रही है । रियासती वज़ीर सानवी तालीम ने चुनावी मुहिम की बिना दसवीं जमात के नतिजें मुल्तवी करने की तरदीद की है ।

तेल्गुदेशम पार्टी ने तलबा के भविष्य‌ से ज़्यादा कांग्रेस की चुनावी मुहिम को एहमियत देने का वज़ीर तालीम पर इल्ज़ाम लगाया है। दसवीं जमात के नतीजें के लिए लाखों तलबा बड़ी बे चैनी से इंतिज़ार कर रहे हैं और हर लम्हा गिन गिन‌ के गुज़ार रहे हैं, उन के वालदैन और सरपरस्तों में भी नतिजों को लेकर फ़िक्र लगी हुई है लेकिन रियासती वज़ीर सानवी तालीम नतीजों पर चुनावी मुहिम को फ़ौक़ियत दे रहे हैं जिस की वजह से तलबा‍ ओर‌-उन के सरपरस्तों में ब्रहमी पाई जाती है ।

शीडोल के मुताबिक़ पहले 22 मई को इमतिहानी नतीजें जारी किया जाना था लेकिन‌ इस में एक दिन बढाते हुए 23 मई को सुबह 11 बजे इमतिहानी नतीजों का वक़्त त‌य‌ किया गया । इसके बाद 24 मई को सुबह 11 बजे नतिजें जारी करने का फैसला किया गया है ।

मोतबर‌ ज़राए से पता चला है कि 23 मई को रियासती वज़ीर सानवी तालीम तिरूपति की चुनावी मुहिम में मसरूफ़ हैं जहां तेल्गु देशम के एक क़ाइद उन की मौजूदगी में कांग्रेस में शामिल होरहे हैं । वो शाम 4 बजे तक हैदराबाद नहीं पहूंच सकते । इस लिए नतिजों को एक दिन के लिए मुल्तवी कर दिया गया है, जब इस सिलसिले में रियासती वज़ीर सानवी तालीम मिस्टर पारता सारथी से राबिता पैदा किया गया तो उन्हों ने चुनावि मसरूफ़ियात की वजह से दसवीं जमात के नतिजों को एक दिन के लिए मुल्तवी करने की तरदीद करते हुए कहा कि मीडिया गैर ज़रूरी उन के ख़िलाफ़ मुहिम चला रहा है।

पहली मर्तबा दसवीं जमात के नतीजों में निशानात के बजाय ग्रेड दिया जा रहा है। इस लिए ओहदेदारों को नतीजें जारी करने से पहले इस का बारीक बीनी से जायज़ा लेने की हिदायत दी गई है । थोड़ी सी ग़फ़लत भी तलबा के मुस्तक़बिल पर असरअंदाज़ होसकती है । तेल्गुदेशम के रुकन क़ानूनसाज़ कौंसल मिस्टर राजिंदर प्रसाद ने दसवीं जमात के नतीजों को शैडोल के मुताबिक़ जारी ना करने की सख़्त मुज़म्मत करते हुए कहा कि लाखों तलबा के इंतिज़ार की फ़िक्र करने के बजाये वज़ीर तालीम कांग्रेस की इंतिख़ाबी मुहिम को तरजीह दे रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT