Tuesday , December 19 2017

दहशतगर्दी का कोई दीन और मज़हब नहीं – शाह सलमान

ख़ादिमुल हरमैन अश्शरीफ़ैन शाह सलमान बिन अब्दुल अज़ीज़ ने कहा है कि दहशतगर्दी का कोई दीन और मज़हब नहीं। इस लानत की सबसे ज़्यादा मुज़म्मत इस्लाम करता है। दहशतगर्दी को इस्लाम से जोड़ कर दीन हनीफ़ को बदनाम करने की कोशिश ना की जाए।

उनका कहना था कि अरब ख़ित्ता इस वक़्त नए चैलेंजेस का सामना कर रहा है। अल अर्बिया टीवी के मुताबिक़ शाह सलमान ने इन ख़्यालात का इज़हार रियाज़ में मुनाक़िदा ख़लीज तआवुन कौंसिल की सरब्राह कान्फ़्रैंस से ख़िताब में किया।

उन्होंने कहा कि शाम के बोहरान के हल के लिए जिनेवा वन इजलास में तय पाए निकात काबिले अमल हैं, उन्ही की रोशनी में शाम का हल तलाश करना होगा। उन्होंने आलमी इत्तिहादियों पर ज़ोर दिया कि वो यमन में अमनो अमान और मुल्क के इस्तिहकाम के लिए कोशिशें तेज़ करें।

TOPPOPULARRECENT