Monday , December 18 2017

दहशतगर्दी का ख़ात्मा फ़ौजी कार्यवाईयों से मुम्किन नहीं – मलेशीया

मलेशीया के वज़ीरे आज़म नजीब रज़्ज़ाक़ ने कहा है कि आलमी दहशतगर्दी का ख़ात्मा सिर्फ फ़ौजी कार्यवाईयों से मुम्किन नहीं। उन्होंने ये बात हफ़्ते के रोज़ जुनूब मशरिक़ी एशियाई ममालिक के सरब्राहान के इजलास से ख़िताब में कही।

हफ़्ते के रोज़ मलेशीया में आसियान इजलास के आग़ाज़ के मौक़ा पर जुनूबी मशरिक़ी एशियाई ममालिक के सरब्राहान ने दुनिया भर में होने वाले हालिया दहशत गर्दाना हमलों के मुतास्सिरीन को याद भी किया।

दारुल हुकूमत क्वालालंपूर में अपने ख़िताब में रज़्ज़ाक़ ने कहा, हालिया दिनों और हफ़्तों में पेश आने वाले दहशत गर्दाना वाक़ियात ने हम सबको मुतास्सिर किया है। अपने ख़िताब में रज़्ज़ाक़ का मज़ीद कहना था, इस हाल में ऐसा एक भी शख़्स नहीं होगा जो इस बीमार सोच और इन्सानी ज़िंदगी की ऐसी तौहीन से धचके का शिकार ना हुआ हो, या हालिया वाक़ियात ने उसे झिंझोड़ ना दिया हो। तमाम ममालिक दुख मना रहे हैं और हमारा दुख सांझा है।

TOPPOPULARRECENT