Monday , December 18 2017

दहशतगर्दी, सैयाहों को मशरिक़े वुस्ता से दूर रखने का सबब

त्यूनस में जून में स्याहती मुक़ामात पर होने वाले दहशतगर्द हमलों के बाद से मग़रिबी ममालिक कई मर्तबा सफ़री इंतिबाह जारी कर चुके हैं जिसमें अपने शहरीयों को शुमाली अफ़्रीक़ा और मशरिक़े वुस्ता के ममालिक में सफ़र के दौरान एहतियात बरतने या अगर मुम्किन हो तो वहां सफ़र ना करने पर ज़ोर दिया गया है।

हालिया बरसों में मग़रिब में त्यूनस से लेकर मशरिक़ में तुर्की तक स्याहत पर बहुत बुरा असर पड़ा है, क्योंकि यूरोपीय और अमरीकी सैयाह इस इंतिबाह पर अमल करते हुए इन ममालिक में जाने से गुरेज़ कर रहे हैं।

गुज़िश्ता माह अमरीकी महकमा ख़ारजा ने दहशतगर्दी की कार्यवाईयों और अमरीकी शहरीयों और मुफ़ादात के ख़िलाफ़ तशद्दुद के वाक़ियात के मुसलसल ख़तरे के बाइस अमरीकीयों के लिए आलमी सफ़र का इंतिबाह बरक़रार रखा।

TOPPOPULARRECENT