Wednesday , November 22 2017
Home / India / दाऊद पाकिस्तान में ही है , रॉ ने जुटाए पुख्ता सबूत

दाऊद पाकिस्तान में ही है , रॉ ने जुटाए पुख्ता सबूत

नई दिल्ली: 1993 के मुंबई सीरियल बम धमाकों का गुनहगार अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम पाकिस्तान में ही छिपकर बैठा हुआ है। हालांकि पाकिस्तान बार-बार इस बात से इनकार करता रहा है कि अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम उसके मुल्क में है।

दाऊद की पाकिस्तान मौजूदगी के पुख्ता सबूत एक बार फिर हिंदुस्तान के हाथ लगे हैं। दाऊद की ताजा तस्वीर और उसके पाकिस्तान पासपोर्ट की कॉपिज हिंदुस्तान की खुफिया एजेंसी रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) ने जुटाई है। दाऊद के खानदान से जुडे ट्रेवल दस्तावेज रॉ की अगुवाई में बाकी एजेंसियों ने हासिल किए हैं।

23-24 अगस्त को अगर हिंदुस्तान के एनएसए अजित डोभाल और उनके पाकिस्तानी हममंसब सरताज अजीज के बीच बातचीत होती है, तो हिंदुस्तान इन सबूतों को उन्हें सौंपेगा। हुकूमत ए पाक के बार-बार इनकार करने के बावजूद हिंद ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि अंडरवल्र्ड डॉन दाऊद इब्राहिम करांची में ही रहता है। हालांकि पाकिस्तान के वज़ारत ए खारेज़ा ने दावा किया है कि दाऊद उनके मुल्क में नहीं रह रहा। पाक का कहना है कि अगर हिंदुस्तान के पास सबूत हैं तो हमें दिखाए।

अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स ने सबूत मिलने का खुलासा करते हुए दाऊद की ताजा तस्वीर जारी की है। एजेंसियों को डॉन की जो ताजा तस्वीर मिली है, उसमें दाऊद क्लीन शेव्ड नजर आ रहा है। 1993 में मुंबई हमले के बाद हिंदुस्तान से फरार होते वक्त दाऊद का चेहरा पतला था। चेहरे पर पतली लंबी मूंछे थीं, लेकिन अब दाऊद का चेहरा भरा हुआ है और मूंछें गायब हैं, वह क्लीन शेव्ड हो गया है।

नई तस्वीर में दाऊद की उम्र भी साफ झलक रही है। उसकी आंखों के नीचे गहरे काले निशान आ गए हैं। दाऊद के एक पासपोर्ट में भी उसकी क्लीन शेव्ड तस्वीर ही लगी है। यह पासपोर्ट साल 1996 का है, यानी हिंदुस्तान से फरार होने के फौरन बाद ही दाऊद ने अपनी मूंछें हटा दी थीं।

तस्वीर से यह भी पता चलता है कि दाऊद ने कोई प्लास्टिक सर्जरी नहीं कराई है। कुछ मीडिया रिपोट्र्स में यह दावा किया गया था कि दाऊद ने सर्जरी से अपना चेहरा बदल लिया है। एजेंसियों के पास दाऊद के दुबई जाने की टिकट और खानदान की तस्वीरे भी हैं।

उधर, एक और अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि हुकूमत ए हिंद खुद दाऊद इब्राहिम की नई तस्वीर जारी कर सकती है।

दाऊद का ठिकाने का भी खुलासा हुआ है। उसका पता है डी 13, ब्लॉक-4, कराची डेवलपमेंट अथॉरिटी, स्कीम-5, क्लिफ्टन कराची। पाकिस्तान अब इस बात से इनकार नहीं कर सकता कि उसके मुल्क में यह दाऊद के घर का ही पता है, क्योंकि इसी पते पर दाऊद की शरीक ए हयात के नाम से एक टेलीफोन लगा है।

यह टेलीफोन पाकिस्तान के सरकारी टेलीकाम डिपार्टमेंट यानी पीटीसीएल की ओर से लगा है । उसी टेलीफोन का बिल हिंदुस्तानी खुफिया एजेंसियों के पास है और यह बिल भी पुराना नहीं इसी साल अप्रैल महीने का है।

हिंदुस्तान की खुफिया एजेंसियों को दाऊद इब्राहीम के 3 पासपोर्ट भी मिले हैं। जो पाकिस्तान से ही जारी हुए हैं। इनमें से एक पासपोर्ट दाऊद की ताजा तस्वीर के साथ है। इसका नंबर है सी 267185, जो शेख दाऊद हसन के नाम से कराची से 1996 में जारी हुआ।

पाकिस्तान में बने दाऊद के पासपोर्ट से भारतीय खुफिया एजेंसियों को कराची में दाऊद के 2 और ठिकानों का पता भी चला। इनमें से एक पता है खायबां तंजीम, फेस-5, डिफेंस हाउसिंग एरिया, कराची। दाऊद के दूसरे पते का भी खुलासा हुआ है- मोइन प्लेस, सेकेंड फ्लोर, नियर अब्दुल्ला शाह गाजी दरगाह, क्लिफ्टन, कराची

खुफिया एजेंसियों के लंबे हाथ ने दाऊद के पूरे खानदान के बारे में भी कई अहम जानकारियां जुटाई हैं। ये सारी जानकारी पाकिस्तान को कदम-कदम पर बेनकाब करती हैं, क्योंकि ये सारी जानकारियां बिल्कुल ताजा हैं। दाऊद के साथ पाकिस्तान में उसकी बीवी महजबीं शेख, इकलौता बेटा मोइन नवाज और तीन बेटियां माहरूख, मेहरीन और माजिया भी रहती हैं।

– रॉ के अलावा हिंदुस्तान की बाकी खुफिया एजेंसियों के हाथ जो सबूत लगे हैं, उनके मुताबिक दाऊद का खानदान पाकिस्तान से दुबई के बीच कई बार सफर कर चुका है।

– दस्तावेज के मुताबिक, दाऊद की बीवी मेहजबीन और बेटी माजिया इस साल 4 जनवरी को अमिरात एयरलाइंस की फ्लाइट से कराची से दुबई गए थे।

– वहां से वे दाऊद की दूसरी बेटी माहरूख और दामाद जुनैद मियांदाद (पाकिस्तान के साबिक क्रिकेटर जावेद मियांदाद का बेटा) के साथ 11 जनवरी को वापस लौटे।

– इसके बाद, दाऊद की बीवी एक बार फिर 19 फरवरी को दुबई गईं और 26 फरवरी को वापस लौटीं।

– दाऊद का बेटा मोइन, उसकी बीवी सानिया और उसके बच्चाों ने भी मार्च से मई 2015 के बीच कई बार कराची से दुबई के बीच सफर किये ।

– मोइन बीवी सानिया और बच्चाों के साथ 30 मई 2015 को दुबई से फिर कराची आया।
‍ हिंदुस्तानी एजेंसियों के पास दाऊद के खानदान के सभी लोगों के पासपोर्ट नंबर और एयर टिकट्स के डिटेल्स हैं।

खुफिया एजेंसियों ने इस बार जिस बात पर सबसे ज्यादा जोर दिया, वह है दाऊद के बारे में ज्यादा से ज्यादा और बिल्कुल ताजा मालामात जुटाना। इसी सिलसिले में दाऊद के पूरे खानदान और दाऊद के करीबी गुर्गों का कच्चा‍ चिट्ठा भी खुफिया एजेंसियों के हाथ लगा है।

ये सारे दस्तावेज अब एक डोजियर के तौर पर पाकिस्तान को सौंपे जाएंगे। हालांकि पाकिस्तान के अडियल रवैए की वजह से दोनों मुल्कों के बीच मजूज़ा एनएसए सतह की बैठक खटाई में पडती नजर आ रही है। मगर यह बैठक हुई, तो हिंदुस्तान इन ताजा सबूतों को पाकिस्तान के सामने रखेगा। दाऊद एक इंटरनैश्नल दहशतगर्द ऐलान हो चुका है। इंटरपोल ने उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर रखा है।

TOPPOPULARRECENT