Wednesday , December 13 2017

दागदार है मोदी का किरदार : स्वामी लक्ष्मी शंकराचार्य

यू पी के स्वामी लक्ष्मी शंकराचार्य का कहना है कि नरेंद्र मोदी विज़ारत-ए-उज़मा के जलील-उल-क़द्र और ज़िम्मेदाराना ओहदे के लिए बिलकुल नाअहल हैं और बी जे पी ने उन्हें इस बावक़ार ओहदे के लिए अपना उम्मीदवार नामज़द करते हुए फिर एक बार अपनी फ़

यू पी के स्वामी लक्ष्मी शंकराचार्य का कहना है कि नरेंद्र मोदी विज़ारत-ए-उज़मा के जलील-उल-क़द्र और ज़िम्मेदाराना ओहदे के लिए बिलकुल नाअहल हैं और बी जे पी ने उन्हें इस बावक़ार ओहदे के लिए अपना उम्मीदवार नामज़द करते हुए फिर एक बार अपनी फ़सताईयत का मुज़ाहरा किया है।

स्वामी शंकराचार्य जो कभी मुस्लमानों को इंतिहाई नफ़रत की निगाह से देखा करते थे अब ख़ुद को मुल्क में फ़िर्कावाराना हम आहंगी को मज़बूत-ओ-मुस्तहकम करने के लिए वक़्फ़ कर दिया है।

स्वामी लक्ष्मी शंकराचार्य ने सियासत से बातचीत करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी का किरदार दागदार रहा है और उनके माथे पर गुजरात फ़सादात में मुस्लमानों के क़त्ल-ए-आम का धब्बा लगा हुआ है। एक ऐसे शख़्स को जिसे इंसाफ़ पसंद अवाम बिलख़सूस कांग्रेस के साबिक़ रुक्न पार्लीमेंट एहसान जाफरी की बेवा ज़किया जाफरी और दीगर मज़लूम मुसलमानों का क़ातिल कहते हैं।

स्वामी शंकराचार्य ने कहा कि मुल्क के इस अहम ओहदे का उम्मीदवार बनाना अच्छी अलामत नहीं हम उस की शिद्दत से मुख़ालिफ़त करेंगे और इस बात को यक़ीनी बनाएंगे कि मोदी के नापसंदीदा वजूद से विज़ारत-ए-उज़मा के ओहदे की शान-ओ-शौकत पर असर पड़े। स्वामी शंकराचार्य ने हिंदूओं और मुसलमानों को मश्वरा दिया कि वो मोदी और फ़िर्क़ापरस्तों की शिकस्त के लिए कमरबस्ता होजाएं।

TOPPOPULARRECENT