Monday , December 11 2017

दानिश्वरों पर हमला मुल्क के लिए खतरा :मनमोहन सिंह

 image

नई दिल्ली : साबिक़ वज़ीर-ए आज़म मनमोहन सिंह ने शुक्रवार को कहा कि सोचने , अपनी बात रखने, और  ख्यालात के इज़हार की आज़ादी के हक़, को जिस तरह दबाया जा रहा है वो मुल्क के लिए बहुत परेशानी और खतरे की बात है|
उन्होंने कहा कि
ख्यालात में इख्तिलाफ़ की वजह से दानिश्वरों पर हमले और  उनके क़त्ल को किसी भी तरह जायज़ नहीं ठहराया जा सकता है | सभी बेहतर सोच के लोगों को इस तरह के वाकेआत की सख्त अल्फ़ाज़ में मज़म्मत करनी चाहिए क्यूंकि ये मुल्क के लिए बड़ा खतरा है’’ |

सिंह, यहाँ साबिक़ वज़ीर आज़म जवाहर लाल नेहरु की 125 वी सालगिरह मनाने के लिए आयोजित नेशनल कांफ्रेंस  “अमन के बगैर आज़ादी, और आज़ादी के बगैर कोई  अमन नहीं: हासिल नेहरु की दूरअंदेशी और भारत का मुस्तक़बिल’’ की इफ्त्ताही तक़रीब में बोल रहे थे |

सिंह ने कहा, “हाल ही में सोचने , अपनी बात रखने , बोलने और ख्यालात के इज़हार की आज़ादी के हक को दबाने के लिए , कुछ इंतेहापसंद तंजीमों ने जिस तरह कुछ  दुखद वाकेआत को अंजाम दिया है, वो मुल्क के लिए बहुत अफ़सोस और परेशानी की बात है’’|
सिंह ने कहा की,
बढती हुई अदमबर्दाश्त के ख़िलाफ़ की जा रही मुखालिफ़त को जिस तरह दबाया जा रहा है उससे मुल्क की मआशी तरक्की को खतरा पैदा हो गया है’’ |
सिंह ने कहा की, कोई भी ‘मुक्त  बाज़ार’ बगैर आज़ादी के नहीं चल सकता है |

TOPPOPULARRECENT