Thursday , January 18 2018

दाभोलकर, पानसारे, कुलबर्गी और गौरी लंकेश, एक ही तरह के लोग मारे जा रहे हैं, तो किस प्रकार के लोग मार रहे हैं?- जावेद अख्तर

बेंगलूरु की पत्रकार गौरी लंकेश की मंगलवार शाम को हत्या कर दी गई। रात करीब 8 बजे अज्ञात हमलावरों ने राजा राजेश्वरी नगर इलाके में रहने वाली हिंदुत्ववादी राजनीति के खिलाफ खुलकर विचार रखने वाली महिला पत्रकार गौरी लंकेश की गोली मारकर हत्या कर दी गई।

गौरी अपनी कार से उतरकर घर जा रही थीं, उन्हें काफी करीब से सिर और सीने में गोली मारी गई जिसके बाद उनकी मौके पर ही मौत हो गई। गौरी की निर्मम हत्या से लोग काफी गुस्से में हैं, और सोशल मीडिया पर खुलकर अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं।

लेखक और गीतकार जावेद अख्तर ने भी गौरी लंकेश की हत्या पर सवाल उठाए हैं। जावेद ने ट्वीट करके कहा है, ‘’दाभोलकर, पानसारे, कुलबर्गी और अब गौरी लंकेश, अगर एक ही तरह के लोग मारे जा रहे हैं, तो किस प्रकार के लोग मार रहे हैं?

जावेद अख्तर के ट्वीट पर नीना सिन्हा नाम की ट्विटर यूजर ने लिखा है, अगर कश्मीरी पंडित मारे जा रहे हैं तो किस प्रकार के लोग उन्हें मार रहे हैं? स्टीरियोटाइप होना आसान है लेकिन क्या यह सही है?

इसका जवाब देते हुए जावेद अख्तर ने लिखा है, कश्मीरी पंडित के हत्यारे मुसलमान थे। मैं उनकी निंदा करता हूं, अब मुझे हिम्मत दिखाओ और बताओ गौरी का हत्यारा कौन है?

TOPPOPULARRECENT