दारूल उलूम ने जारी किया फतवा, मुसलमान विग और नकली दाढ़ी लगाकर न अदा करें नमाज

दारूल उलूम ने जारी किया फतवा, मुसलमान विग और नकली दाढ़ी लगाकर न अदा करें नमाज
Click for full image

इस्लामी शिक्षण संस्था दारुल उलूम  देवबंद ने देश के मुसलमानों के लिए फतवा जारी किया है कि अगर कोई भी मुसलमान विग या नकली दाढ़ी लगाकर नमाज अदा करता है तो उसकी नमाज अधूरी मानी जायेगी। दारुल उलूम देवबंद के प्रवक्ता अशरफ उस्मानी का कहना है कि वुजू (नमाज से पहले हाथ और चेहरा धोना) और गुसल (पूरे शरीर की सफाई) दो बेहद अहम धार्मिक काम है। लेकिन विग के कारण पानी सिर की त्वचा को नहीं छू पाता। इससे वुजू और गुसल का पूरा मकसद ही खत्म हो जाता है और शरीर साफ़ नहीं हो पाता और अगर उनके लिए विग्स बेहद जरूरी है,तो वुजू और गुस्ल के समय इस उतार लें और इसके बाद पहनकर नमाज अदा कर लें। संस्था ने कहा कि जिस तरह से जीवनशैली बदल रही है उससे नमाजियों में भी कंफ्यूजन हो रहा है।

Top Stories