दार्जलिंग हिंसा: मिरिक में गोरखा जनमुक्ति मोर्चा और तृणमूल समर्थकों के बीच झड़प, सुरक्षाबलों ने आंसू गैस के गोले छोड़े

दार्जलिंग हिंसा: मिरिक में गोरखा जनमुक्ति मोर्चा और तृणमूल समर्थकों के बीच झड़प, सुरक्षाबलों ने आंसू गैस के गोले छोड़े
Click for full image

दार्जिलिंग। कई दिनों की शांति के बाद दार्जलिंग में फिर हिंसा भड़क उठी। दार्जलिंग के मिरिक में गोरखा जनमुक्ति मोर्चा और तृणमूल समर्थकों के बीच झड़प हुई। झड़प को काबू में करने के लिए पुलिस और जॉइंट फोर्सेज ने बल प्रयोग किया। इस दौरान सुरक्षाबलों की तरफ से आंसू गैस के गोले छोड़े।

उधर गोरखा जनमुक्ति मोर्चा ने दावा किया है कि पुलिस की तरफ से फायरिंग की गई। जसमें उसके एक समर्थक की मौत हो गई है। उधर हंगामे के दौरान सीआरपीएफ की गाड़ी में भी तोड़फोड़ की गई। तोड़फोड़ और हंगामे में 2 जवान घायल हो गए।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मिरिक उप संभाग में गोरखालैंड समर्थकों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी और पुलिस पर पेट्रोल बम और शीशे की बोतलें फेंकीं। इसके बाद पुलिस कर्मियों ने उनपर लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े।

गोरखा जनमुक्ति मोर्चा ने आरोप लगाया है कि कल रात मिरिक में पुलिस की गोलीबारी में उसके एक समर्थक अशोक तमांग की मौत हो गयी और एक दूसरा व्यक्ति घायल हो गया। हालांकि पुलिस ने आरोप से इनकार किया। जीजेएम ने मिरिक में तमांग के शव के साथ एक रैली निकाली।

Top Stories