दिग्विजय सिंह ने मोदी पर साधा निशाना : अखलाक़ की हत्या पर क्यूँ चुप थे मोदी

दिग्विजय सिंह ने मोदी पर साधा निशाना : अखलाक़ की हत्या पर क्यूँ चुप थे मोदी

नई दिल्ली: सोमवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दलित मुद्दे पर दिए गये बयान पर मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें इस मुद्दे पर “नाटक” करना बंद करना चाहिए और लोगों को आपत्तिजनक बयान देने से रोकना चाहिए।

सिंह ने संसद के बाहर दलित समुदाय पर प्रधानमंत्री के बयान की चर्चा करते हुए कहा कि दलित मुद्दे पर प्रधान मंत्री का बयान इस बात का सुबूत है कि वह कितना असहाय हैं | नकली गौरक्षकों को दण्ड देने और उनके ख़िलाफ़ कड़ी कार्यवाई की चेतावनी देने पर मोदी ने कहा था कि दलितों के ख़िलाफ़ भेदभाव और अत्याचार बर्दाश्त नहीं किया जायेगा | दलितों को बदले तुम मुझे गोली मार सकते हो |
मोदी पर सवाल उठाते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि “आप वासुदेव कुटुम्बकम(विश्व एक है)  की बात करते हैं। लेकिन जब अखलाक को  गौरक्षकों ने ने मार डाला था उस वक़्त क्यूँ चुप थे ? अपना हमला जारी रखते हुए सिंह ने कहा,” ऊना की घटना पर अगर दलितों द्वारा इतना बड़ा आन्दोलन न होता तब आपका ये कथित दलित प्रेम सामने नहीं आ पता | जिन राज्यों में भाजपा की सरकार है वहां दलितों के ख़िलाफ़ संगठनो को सरकार का समर्थन मिला हुआ है |

उन्होंने आगे कहा कि “झारखण्ड में एक मुस्लिम लड़के की मौत हो गई उस घटना पर क्या कार्रवाई की गयी ? उस वक़्त वासुदेव कुटुम्बकम का नारा कहाँ गया ? अगर देश के नागरिकों की रक्षा करनी है तो ‘रमज़ादे हरामज़ादे’ मोदी विरोधी पाकिस्तान जाएँ ,जिन्हें बीफ़ खाना हो वो पाकिस्तान जाएँ ? जैसे आपत्तिजनक बयान पर रोक लगानी होगी |अगर आप इन सब को रोकने के क़ाबिल नहीं हैं तो आपको अपना पद छोड़ देना चाहिए |

Top Stories