दिलीप कुमार की क़ियामगाह के हुसूल की पाकिस्तानी कोशिशें मुश्किलात का शिकार

दिलीप कुमार की क़ियामगाह के हुसूल की पाकिस्तानी कोशिशें मुश्किलात का शिकार
पाकिस्तानी ओहदेदारों की अफ़सानवी हिंदूस्तानी अदाकार दिलीप कुमार की आबाई क़ियामगाह वाक़्य पेशावर के हुसूल की कोशिशें मुश्किलात का शिकार हो गई हैं हालाँकि मकान की ख़रीदारी के लिए भारी रक़म की पेशकश की गई थी। कई अफ़राद ने जायदाद पर अ

पाकिस्तानी ओहदेदारों की अफ़सानवी हिंदूस्तानी अदाकार दिलीप कुमार की आबाई क़ियामगाह वाक़्य पेशावर के हुसूल की कोशिशें मुश्किलात का शिकार हो गई हैं हालाँकि मकान की ख़रीदारी के लिए भारी रक़म की पेशकश की गई थी। कई अफ़राद ने जायदाद पर अपना दावा पेश किया।

ख़ैबर पख़तूनख़ाह की रियास्ती हुकूमत ने हाल ही में मुहल्ला ख़ुदा आबाद के तारीख़ी क़िस्सा ख़वानी बाज़ार में वाक़्य दिलीप कुमार की क़ियामगाह को क़ौमी तहज़ीबी विरसा-ए-क़रार देने का ऐलान किया था। मकान पर फ़िलहाल इकराम उल्लाह का क़ब्ज़ा है। उन्होंने पेशावर में प्रेस कान्फ्रेंस में कहा कि वही इस जायदाद के वाहिद वारिस हैं।

उन्होंने कहा कि इस मकान की हुकूमत की जानिब से जो क़ीमत अदा की जाएगी उन्हें हासिल होनी चाहीए। इनके इलावा भी दीगर कई अफ़राद ने अदालत पर अपने हक़ का दावा किया है।

Top Stories