Sunday , December 17 2017

दिल्ली और हरियाणा के बाद बिहार पहुंचा चोटीकटवा

औरंगाबाद  : दिल्ली और हरियाणा के इलाके से शुरू चोटीकटवा का  मामला, अब धीरे-धीरे औरंगाबाद में भी पांव पसारना शुरू कर दिया है़  औरंगाबाद शहर के अनुग्रह नगर मुहल्ले में एक परिवार ने बच्ची की चोटी रात को सोते वक्त  काट लिये जाने का दावा किया है. हालांकि, प्रभात खबर ऐसे किसी दावे की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है. अधिकारियों का कहना है कि ऐसे दावे पूरी तरह अफवा हैं. लोगों को ऐसे दावों पर किसी हालत में यकीन नहीं करना चाहिए.
रविवार की सुबह अनुग्रहनगर मुहल्ले के प्रमोद सिंह ने बताया कि उनकी सात वर्षीय नतिनी आयुषी की बाल की एक लट किसी ने काट ली़  इसका पता तब चला जब वह बेड से सोकर उठी और परिजनों ने बाल का गुच्छा देखा़
आयुषी के परिजन घर में लगे सीसीटीवी फुटेज को कई बार देखा, लेकिन कहीं कुछ पता नहीं चल पाया़  प्रमोद सिंह ने बताया कि जिस कमरे में वह सोयी थी, उस कमरे के सारी खिड़कियां व दरवाजे बंद थे़  नगर थानाध्यक्ष राजेश वर्णवाल ने बताया कि इस तरह का मामला अगर सामने आता है, तो यह पूरी तरफ अफवाह है़  आम लोगों को इससे बचना चाहिए और जहां तक संभव है, अफवाह फैलानेवालों का विरोध करना चाहिए.
हथुआ : प्रखंड के चैनपुर पंचायत अंतर्गत कोड़राहाता गांव में सोयी एक  महिला के बाल कटने की अफवाह से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी है. महिलाएं इस घटना से डरी-सहमी हुई हैं.
बताया जाता है कि रामाजी यादव की पुत्रवधू बबीता देवी अपनी छत पर सोयी हुई थी. इसी दौरान 9.30 बजे रात को किसी ने दरवाजा खटखटाया. छत से उतर कर दरवाजा खोला, तो आस–पास कोई नहीं था. जब वह दुबारा दरवाजा बंद कर सोने गयी तो महिला की चोटी कटी हुई थी. महिला ने अपनी पति अनिरुद्ध यादव को जगा कर घटना की जानकारी दी. घटना के बाद डरी-सहमी महिला बेहोश हो गयी.
रविवार की सुबह  घटना गांव में फैल गयी. लोग महिला के घर पर पहुंचने लगे. हालांकि महिला चोटी काटने के समय यह नहीं देख पायी कि चोटी काटनेवाला कौन है, लेकिन लोग इसे अंधविश्वास से भी जोड़ कर देख रहे हैं, तो कुछ लोग इस घटना को साजिश बता रहे हैं.
TOPPOPULARRECENT