Saturday , December 16 2017

दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में आया लॉ फर्म चीफ रोहित टंडन, बेहिसाब संपत्ति का हो रहा खुलासा

नई दिल्ली। दिल्ली के ग्रेटर कैलाश से लॉ फर्म पर छापे के दौरान जब्त किये गए बेहिसाब नकदी की जांच में कई बड़े खुलासे होने की उम्मीद है। पुलिस ने लॉ फर्म चलाने वाले रोहित टंडन को गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ कर रही है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

न्यूज़ नेटवर्क समूह प्रदेश 18 के अनुसार पुलिस ने रोहित को साथ लेकर ग्रेटर कैलाश वाले घर में फिर से जांच की। बता दें कि रविवार को रोहित के ग्रेटर कैलाश स्थित एक लॉ फर्म से 13 करोड़ 65 लाख की राशि बरामद हुई है।

मामले की जांच में लगी टीम में आयकर विभाग के सात अधिकारी, 5 बैंक अधिकारी, सीबीआई के एक डीएसपी रैंक के अधिकारी शामिल हैं। रोहित टंडन की लॉ फर्म की एक कार्यालय द्वारका में भी है। छतरपूर में रोहित का एक फार्म हाउस भी है। इन दोनों जगहों पर भी जांच शुरू हो गई है। सूत्रों की मानें तो रोहित से मिले कैश डेटा और भी बढ़ सकते हैं।

रविवार को लॉ फर्म में छापे के दौरान पुलिस ने 13 करोड़ 65 लाख रुपये बरामद किए, जिसमें 2 करोड़ 60 लाख नए नोट थे। साथ ही 100-100 के नोट के 3 करोड़ रुपये था जबकि 1000 रुपये के नोट में 7 करोड़ रुपये थे और 50-50 के नोट में 1 करोड़ रुपये मिले थे।

आपको पता दें कि रोहित टंडन पेशे से वकील है। वह सुप्रीम कोर्ट में वकालत करता है। 2005 में उसने जे ई यू एस नामक एक लॉ फर्म खोली थी। 2014 में उसने टंडन एंड टंडन नाम की लॉ फर्म खोली। यह फर्म होटल, बिल्डर और बड़ी-बड़ी कंपनियों के कानूनी मामले सुलझाने का काम करती है।दिल्ली और आसपास के इलाकों में रोहित टंडन की कई संपत्तियां हैं। 6 अक्टूबर को भी आयकर विभाग ने रोहित टंडन के कार्यालय पर छापा मारा था जिसके बाद उसने 125 करोड़ रुपये के अघोषित संपत्ति का खुलासा किया था। इसके बाद से ही यह आयकर विभाग के रडार पर था।

TOPPOPULARRECENT