दिल्ली पुलिस ने एसएससी घोटाले के खिलाफ युवा-हल्लाबोल आयोजित करने के लिए अनुपम के खिलाफ FIR दर्ज किया

दिल्ली पुलिस ने एसएससी घोटाले के खिलाफ युवा-हल्लाबोल आयोजित करने के लिए अनुपम के खिलाफ FIR दर्ज किया
Click for full image

दिल्ली पुलिस ने 31 मार्च को संसद मार्ग पर युवा-हल्लाबोल का आयोजन करने के लिए युवा नेता अनुपम व चार अन्य विद्यार्थियों के खिलाफ़ FIR दर्ज किया है। युवा-हल्लाबोल में एसएससी के घोटाले व अनियमितताओं के विरुद्ध संघर्ष कर रहे अभ्यर्थी भारी संख्या में एकत्रित हुए थे। देश भर में चल रहे इस आंदोलन में सम्मिलित छात्र एसएससी द्वारा आयोजित परीक्षाओं में स्वतंत्र व समयबद्ध सीबीआई जाँच की माँग कर रहे हैं।

31 मार्च को आयोजित युवा-हल्लाबोल की घोषणा CGO कॉम्प्लेक्स पर एसएससी मुख्यालय के बाहर छात्रों द्वारा लगातार 18 दिन संघर्षरत रहने के बाद की गई थी।

पहले दिन से ही एसएससी आंदोलन में छात्रों का मार्गदर्शन कर रहे अनुपम ने कहा, “यह एसएससी घोटाले के खिलाफ़ चल रहे राष्ट्रव्यापी आंदोलन को कमजोर करने की साजिश है। पर ऐसी षड्यंत्र कामयाब नहीं होंगें और छात्र सरकारी नौकरियों में ईमानदार चयन के अपने अधिकार के लिए अंत तक लड़ेंगें।

अनुपम ने साथ ही जोड़ा कि उनके लिए ये चौंकाने वाला था कि दिल्ली पुलिस ने उनके खिलाफ ही एफआईआर दर्ज कर दी है। उन्होंने कहा, “संसद मार्ग पर मौजुद कुछ असामाजिक और उपद्रवी किस्म के लोगों ने आम छात्रों को भड़काने का प्रयास किया।” छात्रों ने ऐसे तत्वों के बारे में पुलिस को एक दिन पहले ही सूचित कर दिया था लेकिन पुलिस ने समय रहते कार्रवाई नहीं की। हमें पूरी आशंका है कि हमारी अनुपस्थिति में प्रदर्शन उग्र और अराजक रूप ले सकता था। और इसलिए मेरे लिए ये जानना आश्चर्यजनक है कि दिल्ली पुलिस ने मेरे ही खिलाफ एफआईआर दायर कर दिया है।

एसएससी के खिलाफ चल रहे आंदोलन के भविष्य के बारे में स्पष्ट करते हुए अनुपम ने कहा कि हम ये सुनिश्चित करेंगे कि युवा-हल्लाबोल का ऐतिहासिक आंदोलन अपने सार्थक अंजाम तक पहुँचे और इसे कमजोर करने की सरकार एवं असामाजिक तत्वों की तमाम कोशिशें सफल न हो पायें।

Top Stories