Thursday , December 14 2017

दिल्ली: मुस्लिम नौजवान की फ़र्श पर थूकने की वजह से हत्या, इन्साफ़ की तलाश में भटक रहा परिवार

नई दिल्ली/पूर्णिया: होज़ खास इलाके के गौतम नगर कालोनी में एक 35 साला युवक मोहम्मद मुर्शीद अंसारी को 11 अगस्त गुरुवार रत 9.30 बजे  फर्श पर थूकने की मामूली सी बात पर चाकू से गोंद कर मार दिया जाता है. पुलिस आती है आरोपी को गिरफ्तार कर लेती है पोस्टमार्टम के लिए होस्पीटल भेज दिया जाता FIR भी होता है पुलिस भीड़ को रोकने के लिए लाठी चार्ज भी करते हैं जबकि वह भीड़ सिर्फ मुर्शीद को एक नज़र देखने के लिए इकठ्ठा हुई थी और आज उसकी जनाज़े की नमाज़ भी हो गई जिसमें जन सैलाब देखा जा सकता है और अब सब उसकी फैमिली को अकेला छोड़ चले गए, चलिए इसको आप रीति रिवाज या लाज़मी प्रकिर्या कह लीजये जो बहुत शांतिपूर्वक नहीं हुआ है अब सवाल यह है कि क्या होगा उसकी फैमिली का?

FB_IMG_1471058558130 IMG_20160814_083132187 IMG_20160814_084147261 IMG_20160814_084157954

मकान मालिक मोहम्मद जमील अंसारी जिनके बारे में उनके किरायेदार मोहम्मद ताजिम अंसारी ने बताया कि उन्होंने मुकेश मंडल के नाम पर एक हत्यारा पाल रखा था जो कई बार झगड़ा लड़ाई मारपीट जैसे वारदात को अंजाम देता रहा था इसकी शिकायत भी कई बार मकान मालिक जमील अंसारी से की गई थी लेकिन उन्होंने उसके खिलाफ कोई कारवाई नहीं की थी यहाँ तक कि उसको छूट दे दिया गया था कि अगर कोई तुम्हारे खिलाफ बोलता है तो तुम उसे मारो और उसी छूट का परिणाम यह क़त्ल है. उल्लेखनीय है कि दोनों एक ही जिले पूर्णिया के रहने वाले है और एक ही बिरादरी के हैं फर्क इतना है कि जमील रॉब रुतबे वाला है और मुर्शीद एक छोटा सा मजदूर .

इस विषय पर कुछ लोग मकान मालिक जमील अंसारी के घर बिहार में इस इशु पर बातचीत के लिए गये थे लेकिन उसने कुछ सुनने से इनकार कर दिया. और यह कहते हुए उसकी बात को टाल दिया कि वह (मुकेश) शराब पीता था और शराब पीने वाला व्यकित क़त्ल नहीं कर सकता, इस से पता चलता है कि उसको पहले से पता था कि मुकेश शराब पीता था तो सवाल यह है कि शराब पीने वाला आदमी कब अच्छा काम किया है जो अब करता लेकिन जमील अंसारी के अनुसार शराब पीने वाला कभी क़त्ल कर ही नहीं सकता जिसे वजह से उस ने उसको पनाह दे रखी थी जबकि आरोपी मुकेश की बीवी भी उसके गुस्से से तंग आ चुकी थी और यहाँ तक कह दिया था कि इसको भी मार दो.

FB_IMG_1471058552092

आपको बता दें कि पोस्टमॉर्टम के बाद पुलिस ने लाश को वापिस बिल्डिंग में प्रवेश नहीं करने दिया और लाश ला रहे लोगों पर लाठी चार्ज कर दिया जिसमें कई लोग बुरी तरह ज़ख़्मी हो गये. उनके परिवार के सदस्य से बात चीत के दौरान पता चला कि जमील अंसारी जो बिहार के पूर्णिया जिले का रहने वाला है और मृतक के समाज का हिस्सा है उसकी उसी दिन की फ्लाइट थी लोगों ने उनका 5 घंटे तक इंतज़ार किया कि वह आयेंगे संतावना देने लेकिन नहीं ऐसा कुछ नहीं हुआ किरायेदार के अनुसार यहाँ तक कि पुलिस के ज़रिए खदेड़ा गया उन लोगों को लाश बिल्डिंग में ले जाने से रोका और यही नहीं उसके भाई ने किरायेदारों को धमकी दी कि अगर लाश को बिल्डिंग में लाओगे तो पेट्रोल छींट कर आग लगा देंगे यहाँ तक कि उसने इतना तक कहा कि अगर कोई आगे आने की कोशिश करेगा तो उसको गोली मार दिया जायेगा. इस धमकी से डर कर मुर्शीद के रिश्तेदारों ने मुर्शीद् के लाश को लेकर बिहार उसकी घर की ओर रवाना हो गये इससे पता चलता है कि उन्होंने पुलिस मैनेज की थी .

IMG_20160814_114718881IMG_20160813_082704157

उल्लेखनीय है कि मृतक अपने पीछे तीन बच्चे और एक बीवी को छोड़ गया है जिसमें सबसे बड़ा बेटा 12 साल का है उनसे छोटा 8 और सबसे छोटा 4 साल का है इन छोटे छोटे मासूमों का क्या होगा और उनकी बीवी जो अब होश खो चुकी है क्या होगा? एक बूढ़ी माँ जो बार बार हिचकोले ले रही है और इस वहम में है कि काश यह सब सपना हो और मेरा बेटा वापिस आजाये और एक लाचार और बीमार बाप जो लाठी के सहारे चलता है और बीमारी की वजह से खुद जिंदगी और मौत से जूझ रहा है क्या बीती होगी उस पर कि उसके बुढ़ापे का सहारा छीन गया.

अपील:

फ़िलहाल इन सब सवालों का जवाब तो इनकी फैमिली को अभी बिलकुल नहीं चाहिए अभी उनको चाहिए सहारा और कुछ आर्थिक मदद जो आप की हैसियत कि मुताबिक हो जरुर करें और उनकी फैमिली को आर्थिक मदद दे कर उनका सपोर्ट करें.

मरहूम मुर्शीद अंसारी की वाईफ का बैंक डिटेल्स:

IMG_20160814_104607067

Name: Mrs SAIDA BAIGAM

Account No: 33300304651

IFSC Code: SBIN0016011

PHONE NO. 8521784672

और आखिर बात जमील अंसारी जैसे लोग जिसने अबतक उसकी फैमिली से मिलना तो दूर अभी तक एक फोन काल भी संतावना के तौर पर नहीं किया यहाँ तक कि उन लोगों को धमकियां तक दीं उनके दहशत की वजह से 50-60 लोग पलायन कर चुके हैं ऐसे लोगों के खिलाफ आवाज़ उठायें ताकि कभी फिर कोई मुर्शीद की फैमिली बे सहारा न हो और ऐसे लोगों का डर फिर किसी समाज को भयभीत न करे.

 

 

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

TOPPOPULARRECENT