Wednesday , November 22 2017
Home / AP/Telangana / दिल्ली में जंगल राज, बस्सी आर एस एस के आदमी

दिल्ली में जंगल राज, बस्सी आर एस एस के आदमी

नई दिल्ली 18 फ़रवरी: पटियाला हाउज़ कोर्ट में हमलों का हवाला देते हुए कांग्रेस ने कहा कि दिल्ली में जंगल राज की कैफ़ीयत है और पुलिस कमिशनर दिल्ली बी एस बसी की फ़ील-फ़ौर बरतरफ़ी का मुतालिबा किया। पार्टी तर्जुमान और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी सदर अजए माकन ने ज़राए इबलाग़ के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि दिल्ली पुलिस बीजेपी के ग़ुंडों की काट पुतली हो चुकी है। कमिशनर पुलिस बी एस बसी को इस ओहदे से फ़ौरी हटाना और उन्हें मुअत्तल करना चाहीए।

माकन ने कहा कि ये इंतेहाई अफ़सोसनाक पहलू हैके बस्सी सुबकदोशी के बाद कलीदी ओहदा हासिल करने की ख़ातिर सियासी आक़ाओं को अपनी वफ़ादारी दिखाना चाहते हैं।

कांग्रेस लीडर ने कहा कि ये क़यास-आराइयाँ जारी हैं कि बस्सी अपनी सुबकदोशी के बाद इन्फ़ार्मेशन कमिशनर बनना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि इस पुलिस कमिशनर को सुबकदोशी के बाद एसा कोई ओहदा नहीं दिया जाना चाहीए। पटियाला हाउज़ कोर्ट में तशद्दुद के वाक़ियात इस बात का वाज़िह इशारा है कि दिल्ली पुलिस पर बीजेपी के ग़ुंडों का कंट्रोल है।

अदलिया में हर किसी को कोशिश का हक़ है और कोई भी शख़्स पुलिस तहवील में होने के बाद उसे हमलों का निशाना बनाना इंतेहाई अफ़सोसनाक है। ये भी एक तशवीशनाक पहलू हैके सुप्रीमकोर्ट के अहकामात के बावजूद और एसे वक़्त जबकि सीनीयर वुकला पटियाला हाउज़ कोर्ट में मौजूद थे, अश्रार ने अपनी कार्रवाई की और पुलिस ख़ामोश तमाशाई बनी रही।

पुलिस दरअसल इन अश्रार और बीजेपी के ग़ुंडों के हाथों खिलौना बनी हुई है। एक और पार्टी तर्जुमान आर पी एन सिंह ने कहा कि दिल्ली में पिछ्ले चंद दिन से जो कुछ हो रहा है वो साफ़ ज़ाहिर करता है कि यहां जंगल राज है।

TOPPOPULARRECENT