Monday , December 18 2017

दिल्ली में फ़न ख़त्ताती की नुमाइश से हज़ारों अफ़राद मुस्तफ़ीद

नई दिल्ली, 17 मार्च: ( सियासत न्यूज़ )रोज़नामा सियासत की जानिब से मुनाक़िदा फ़न ख़त्ताती की एक हफ़्ता तवील नुमाइश का आज इख़्तेताम अमल में आया । जामिआ मिलिया इस्लामीया नई दिल्ली के एमएफ हुसैन आर्ट गैलरी पर मुनाक़िदा इस ख़त्ताती नुमाइश का म

नई दिल्ली, 17 मार्च: ( सियासत न्यूज़ )रोज़नामा सियासत की जानिब से मुनाक़िदा फ़न ख़त्ताती की एक हफ़्ता तवील नुमाइश का आज इख़्तेताम अमल में आया । जामिआ मिलिया इस्लामीया नई दिल्ली के एमएफ हुसैन आर्ट गैलरी पर मुनाक़िदा इस ख़त्ताती नुमाइश का मुशाहिदा करने वालों ने इस्लामी आर्ट-ओ-ख़त्ताती की ज़बरदस्त सताइश की ।

महकमा इस्लामी स्टडीज़ नई दिल्ली के तआवुन से मुनाक़िदा ख़त्ताती नुमाइश की इख़्तेतामी तक़रीब की सदारत मिस्टर मिश्रा अस्सिटेंट एडीटर फ़रोब्स मैगज़ीन ने की । जनाब ज़ाहिद अली ख़ां एडीटर रोज़नामा सियासत मेहमान ख़ुसूसी थे । इस मौके पर जनाब ज़हीर उद्दीन अली ख़ां मैनेजिंग एडीटर रोज़नामा सियासत , जनाब आमिर अली ख़ां न्यूज़ एडीटर रोज़नामा सियासत भी मौजूद थे ।

फ़न ख़त्ताती और अरबी आयात की तहरीरें देखने वाले जज़बा‍ ए‍ इश्क़-ओ-इशतियाक़ के इस दरयाए नूर से मुस्तफ़ीद हुए । प्रोफेसर अख़तरुल-वासे सदर शोबा ज़ाकिर हुसैन इंस्टीट्यूट आफ़ इस्लामिक स्टडीज़ जामिआ मिलिया इस्लामीया ने मेहमानों और हाज़रीन का ख़ैर मुक़द्दम किया ।

उन्होंने अपने ख़ैर मुक़द्दमी ख़िताब में जनाब ज़हीर उद्दीन अली ख़ां की कोशिशों की सताइश की । इस्लामी ख़त्ताती , फ़न-ओ-नुमाइश के एहतिमाम में उनकी इन दिलचस्पी के बाइस आज क़ौमी दारुल-हकूमत के हज़ारों शायक़ीन फ़न ख़त्ताती इस नुमाइश से मुस्तफ़ीद हो सके । उन्होंने शोबा फाइन आर्टस ख़ासकर प्रोफेसर ज़हूर अहमद ज़रगर और उनके तलबा का तज़किरा किया जिन के तआवुन से नुमाइश को कामयाब बनाने में मदद मिली ।

जनाब ज़ाहिद अली ख़ां ने मेहमान ख़ुसूसी की हैसियत से ख़िताब करते हुए जामिआ मिलिया इस्लामीया के हुक्काम से इज़हार-ए-तशक्कुर किया कि अरबी ख़त्ताती के शाहकारों की नुमाइश के लिये शानदार इंतेज़ामात करने में इनका अहम तआवुन रहा है ।

उन्होंने कहा कि रोज़नामा सियासत ने फ़न ख़त्ताती के अहया -की जानिब क़दम उठाया है । ये फ़न तक़रीबा फ़रामोश होता जा रहा था । उन्होंने कहा कि दुनिया में ज़ाइद अज़ 200 मुल्कों में उर्दू ज़बान बोली जाती है । प्रोफेसर ज़हूर अहमद ज़रगर ने अपनी तक़रीर में फ़न ख़त्ताती की ख़ुसूसियात और इसकी अहमियत को रोशनास किया और तयक्कुन दिया कि मुस्तक़बिल में भी जामिआ मिलिया इस्लामीया इस तरह की नुमाइश के इनइक़ाद के लिये अपना तआवुन जारी रखेगा ।

एमएफ हुसैन आर्ट गैलरी के शानदार कुशादा हाल में इस नुमाइश का मुशाहिदा करने वालों की कसीर तादाद देखी गई । मिस्टर उदित मिश्रा अस्सिटेट एडीटर फरोब्स मैगज़ीन ने अपने सदारती ख़िताब में कहा कि रोज़नामा सियासत ने फ़न ख़त्ताती का अहया कर के इस फ़न को ज़िंदा रखने की अहम कोशिश की है । इस तरह की कोशिश फ़न ख़त्ताती और ख़त्तात हज़रात के फ़न को तस्लीम करने की सिम्त दुरुस्त क़दम है ।

इस मौक़े पर ख़त्तात जनाब नईम साबरी , जनाब अबदूल लतीफ़ , जनाब नसीर सुलतान और जनाब नसीर उद्दीन वक़ार को मोमिनटोज़ पेश किए गए । नुमाइश के एहतिमाम में भरपूर तआवुन करने पर प्रोफेसर अख़तरुल वासे , प्रोफेसर ज़हूर ज़रगर , जनाब तनवीर अजसी और जनाब इश्तेयाक़ अहमद को तहाइफ़ पेश किए गए । इब्तिदा में क़ारी मुहम्मद नसीर उद्दीन की क़िरात कलाम ए पाक से तक़रीब का आग़ाज़ हुआ ।

जनाब ज़हीर उद्दीन अली ख़ां मैनेजिंग एडीटर रोज़नामा सियासत ने शुक्रिया अदा किया । रोज़नामा सियासत के अमला ने ख़ासकर इस्माइल अहमद , सैयद बिन नासिर , एम एन बेग , शेख निज़ाम उद्दीन अली लईक ( फ़ोटोग्राफ़र सियासत ) , एम ए फहीम , मज़हर ख़ां , नसीर उद्दीन अहमद , एम शेखर ने नई दिल्ली में नुमाइश के एहतिमाम में ख़िदमत अंजाम दी ।

TOPPOPULARRECENT