Friday , December 15 2017

दिल्ली विश्विद्यालय के छात्रों ने शॉर्ट फ़िल्म बना कर दिखाया रोहींगिया मुसलमानों का दर्द

रोहींगिया प्रवासियों की दुर्दशा को देखते हुए दिल्ली विश्वविद्यालय के तीस छात्रों ने  एक शॉर्ट फिल्म बनाई है। ये शॉर्ट फ़िल्म केरल के कुछ इलाक़े और दिल्ली के कंचन कुंज में रोहींगिया प्रवासियों की बस्तियों की उस हक़ीक़त को दर्शाती है जिसको मुख्यधारा मीडिया द्वारा अनदेखा किया जा रहा है।

दिल्ली यूनिवर्सिटी के विभिन्न कॉलेजों के छात्र, दस सेंट स्टीफन, पाँच पाँच  छात्र हिंदू, रामजास, किरोरी माल और मिरांडा हाउस कॉलेज के आख़िरी साल की पढ़ाई कर रहे कुल 30 तीस छात्रों का कहना है कि यह फिल्म रोहींगिया प्रवासियों द्वारा कठिन परिस्थितियों का सामना करने वाली कठोर वास्तविकता की झलक को दिखाती है। इस फ़िल्म में रोहिंगिया शरणार्थियों द्वारा आपबीती बताई जाती है जो अपने जीवन के बारे में बात करते हुए नज़र आते हैं और साथ ही अपने लिए लोगों के नज़रिए का भी विस्तार प्रदान करते हैं।

पांच मिनट के इस वीडियो को शुरू में उपावन नाम दिया गया था, अब इसका नाम बदलकर “9 6 9” कर दिया गया है। फ़िल्म का यह नाम म्यांमार में “9 7 9 आंदोलन” से लिया गया है। तीन अंक बुद्ध, बौद्ध प्रथाओं और बौद्ध समुदाय के गुणों का प्रतीक हैं।

सेंट स्टीफन के तीसरे साल के अर्थशास्त्र के छात्र मोहम्मद अरशद ने बताया कि  “न्यायालय के फैसले की घोषणा से पहले हमने शरणार्थियों के जीवन के कुछ पहलुओं को सामने लाने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया था।

छात्रों के इसी ग्रुप ने इससे  पहले सिनेमा थिएटर में राष्ट्रगान के समय खड़े  होने को लेकर  फिल्म बनाई थी क्योंकि इन छात्रों का मानना है कि यह फ़ैसला जनता पर ज़बरदस्ती थोपा जा रहा है।

“हम चींटियों की गतिविधियों के समान एक रूपक का उपयोग करके फिल्म बनाते हैं कि किस तरह वे भोजन और आश्रय की तलाश में घूमती हैं। अरशद ने आगे बताया कि यह शरणार्थियों के संघर्ष को दर्शाता है जो शिविरों की खराब स्थितियों में रहते हैं, जनसंहार के ख़तरे से दूर अपने घरों से दूर वे रहने को मजबूर हैं।

फिल्म के निर्माताओं का मानना ​​है कि लोगों की शरणार्थियों के बारे  धारणा को बदलने की आवश्यकता है। फ़िलहाल छात्र फ़िल्म के लिए फ़ंड की तलाश में हैं और कई राजनेताओं से इनको समर्थन भी मिला है।  फिल्म अभी संपादन चरण में है और नवंबर के पहले सप्ताह में रिलीज़ होगी।

 

 

 

TOPPOPULARRECENT