दिल्ली हिंसा पर खमेनेई बोले, भारत के मुस्लिम खतरे में

दिल्ली हिंसा पर खमेनेई बोले, भारत के मुस्लिम खतरे में

देश की राजधानी दिल्ली में पिछले महीने हुई हिंसा में ईरान के सुप्रीम लीडर अयातुल्ला खमेनेई ने धार्मिक ऐंगल निकाला है। भारत के आंतरिक हालात पर दखल देते हुए खमनेई ने कहा है कि भारत मेंमुस्लिम खतरे में हैं। आपको बता दें कि दिल्ली में भड़की हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 53 हो गई है जबकि 200 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। हिंसा को लेकर कई तरह के विडियो भी सामने आ रहे हैं, जिससे काफी कुछ तस्वीर साफ हो रही है। ऐसे समय में जब ईरान समेत पूरी दुनिया कोरोना वायरस से लोगों को बचाने के लिए युद्धस्तर पर काम कर रही है, ईरान के सुप्रीम लीडर ने भारतीय मुस्लिमों को उकसाने की कोशिश की है।

गुरुवार को ईरान के सर्वोच्च नेता खमनेई ने ट्वीट किया, ‘भारत में मुस्लिमों के नरसंहार पर दुनियाभर के मुस्लिमों का दिल दुखी है। भारत सरकार को कट्टर हिंदुओं और उनकी पार्टियों को रोकना चाहिए और इस्लामिक देशों की ओर से अलग-थलग होने से बचने के लिए भारत को मुस्लिमों के नरसंहार को रोकना चाहिए।’ खमनेई ने ट्वीट के साथ #IndianMuslimslnDanger का भी इस्तेमाल किया है।

आपको बता दें कि इससे पहले तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने भी भारतीय मुसलमानों को लेकर टिप्पणी की थी। भारत ने उनकी इस टिप्पणी को राजनैतिक एजेंडे से प्रभावित बताया है। गौरतलब है कि पाकिस्तान, तुर्की और मलयेशिया की ओर से हाल में कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के भारत सरकार के फैसले में धार्मिक ऐंगल निकालने की कोशिश की गई थी। दरअसल, पाकिस्तान की कोशिश थी कि वह कश्मीर के मुसलमानों का नाम लेकर दुनियाभर के मुस्लिम देशों का समर्थन हासिल कर सके, पर वह अपने मंसूबे में कामयाब नहीं हो पाया।

Top Stories