दुबई एमिरात लैंडिंग हादसा: जसीम अल बलौशी की शहादत को सलाम करने दूर दूर से आये लोग

दुबई एमिरात लैंडिंग हादसा: जसीम अल बलौशी की शहादत को सलाम करने दूर दूर से आये लोग

दुबई: जसीम अल बलौशी ने 300 लोगों की जान तो बचा ली लेकिन अपनी जान नहीं बचा पाए. अमीरात लैंडिंग में हुए हादसे के बाद जिस तरह से उन्होंने अपनी जान पे खेलकर लोगों की जान बचाई वो एक मिसाल है. वो ख़ुद इस हादसे में बुरी तरह जल गए और उनका इंतिक़ाल हो गया. उनकी शहादत को सलाम करने के लिए उनके जनाज़े में शिरकत करने दूर दूर से लोग आये. खरराँ जो उनका होमटाउन है उसमें लोग जनाज़े में शिरकत करने के लिए आये.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

मालूम हो कि दुबई एयरपोर्ट पर हुए एमिराट् विमान की क्रैश लैंडिंग के बाद जब उसमें आग लग गई और वो पूरी तरह जल गया। अगर वक्‍त रहते इसमें सवार 300 लोगों को नहीं निकाला गया होता तो कई जाने जा सकती थीं।लेकिन विमान में सवार लोगों को बचाने के बावजूद एक व्‍यक्ति की मौत हो गई और वो था फायर फायटर टीम का सदस्‍य।इस बहादुर इंसान ने दूसरों को तो बचा लिया लेकिन इस दुर्घटना से खुद को नहीं बचा पाया। जसीम इसा मोहम्‍मद हुसैन नाम के इस साहसी फायर फाइटर ने अपनी जान की क़ुर्बानी देते हुए 300 लोगों को बचाया.

Top Stories