दुबई ने एयर इंडिया एक्सप्रेस को देश की चार लैब के बारे में चेताया, नेगेटिव रिपोर्ट पर विश्वास नहीं करने को कहा

दुबई ने एयर इंडिया एक्सप्रेस को देश की चार लैब के बारे में चेताया, नेगेटिव रिपोर्ट पर विश्वास नहीं करने को कहा

दुबई सिविल एविएशन अथॉरिटी (DCAA) ने मंगलवार को एयर इंडिया एक्सप्रेस को चार अलग-अलग प्रयोगशालाओं के यात्रियों की COVID- नकारात्मक परीक्षण रिपोर्ट को अस्वीकार करने की सिफारिश की। एयर इंडिया एक्सप्रेस ने ट्विटर पर लिखा है, ‘दुबई में नियामक अधिकारियों ने एयर इंडिया एक्सप्रेस को जयपुर, केरल और दिल्ली के चार लैबों से आरटी-पीसीआर परीक्षण रिपोर्ट को खारिज करने की सिफारिश की है।’ बता दें कि यह बयान तब आता है जब एयर इंडिया एक्सप्रेस की उड़ानें 19 सितंबर से अस्थायी निलंबन के बाद दुबई से आना-जाना कर रही है।

डीसीएए द्वारा सुझाई गई प्रयोगशालाओं के नाम जयपुर में सूर्यम लैब, केरल के शहर में माइक्रोहेल्ट लैब, दिल्ली में डॉ पी भसीन पैथलैब्स (प्राइवेट) लिमिटेड और नोबल डायग्नोस्टिक सेंटर हैं। बता दें कि एक COVID-19 पॉजिटिव पैसेंजर के 4 सितंबर को जयपुर-दुबई की फ्लाइट में पाए जाने के बाद, 2 अक्टूबर तक 15 दिनों की अवधि के लिए एयर इंडिया एक्सप्रेस से दुबई के एयरपोर्ट्स के सभी ऑपरेशन अस्थायी रूप से निलंबित कर दिए गए थे।

दुबई नागरिक उड्डयन प्राधिकरण के (एयर ट्रांसपोर्ट और अंतर्राष्ट्रीय मामलों के क्षेत्र) एसए कंकरजार ने कहा, ‘चार सितंबर को जयपुर-दुबई की फ्लाइट में एक शख्स के पॉजिटिव पाए जाने के बाद, 2 अक्टूबर तक 15 दिनों के लिए दुबई एयरपोर्ट्स का एयर इंडिया एक्सप्रेस के लिए परिचालन स्थगित कर दिया गया। यह दूसरा ऐसा उदाहरण था।’ एयरलाइन ने कहा था कि दिल्ली और जयपुर में एयरलाइन के ग्राउंड हैंडलिंग एजेंटों द्वारा ‘गलत स्वीकृति’ के बाद गलती हुई थी।

एयर इंडिया एक्सप्रेस की एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि एयर इंडिया एक्सप्रेस की 28 अगस्त और 4 सितंबर को दुबई जाने वाली एयर इंडिया एक्सप्रेस की उड़ानों में दिल्ली और जयपुर में एयरलाइन के ग्राउंड हैंडलिंग एजेंटों द्वारा एक सीओवीआईडी पॉजिटिव यात्री की गलत स्वीकृति के कारण नोटिस जारी किया गया है।

Top Stories