Monday , December 18 2017

दुबारा पोलिंग से राय दहिन्दे की क़िस्मत जाग उठी

हलक़ा असेंबली कलवाकुरती का नतीजा अभी ज़ाहिर नहीं किया गया, जिस की वजह वोटिंग मशीन की ख़राबी बताई जा रही है।

हलक़ा असेंबली कलवाकुरती का नतीजा अभी ज़ाहिर नहीं किया गया, जिस की वजह वोटिंग मशीन की ख़राबी बताई जा रही है।

तफ़सीलात के बमूजब कलवाकुरती असेंबली हलके में जुमला दस उम्मीदवारों ने चुनाव में हिस्सा लिया था, जहां 30 अप्रैल को पोलिंग भी हुई, लेकिन जब महबूबनगर जे पी एन सी कॉलेज में राय शुमारी के दौरान यहां के पाँच मंडलों का नतीजा निकलना शुरू हुआ और जोपली गांव में इस्तेमाल की गई वोटिंग मशीन को खोला गया तो इस मशीन ने काम करना बंद कर दिया, जिस की दरूस्तगी के लिए रात साढे़ आठ बजे तक कोशिश की गई, लेकिन उसकी गिनती ज़ाहिर नहीं होसकी, जिस के सबब मशीन को हैदराबाद रवाना किया, लेकिन इलेक्शन ऑफ़िस में तीन बजे तक भी ख़ामी दूर नहीं की जा सकी और ख़राबी की वजह वाइरस बताई गई, जिस के बाद इत्तेला मिली कि दुबारा पोलिंग करवाई जाएगी।

जैसे ही दुबारा पोलिंग की बात कही गई, तमाम सियासी पार्टीयों के कारकुनों ने जोपली का रुख़ किया और अब वहां पर ज़बरदस्त गहमा गहमी देखी जा रही है और हर कोई एक दूसरे पर सबक़त ले जाने की कोशिश कर रहा है।

इस हलके के तीनों देहातों में पुलिस का सख़्त पहरा है और दफ़ा 144 का नफ़ाज़ अमल में आचुका है। किसी भी अजनबी शख़्स को गांव में दाख़िल होने से रोका जा रहा है, जब कि 19 तारीख़ को पोलिंग के क़वी इमकानात हैं।

पुलिस का सख़्त पहरा होने के बावजूद सियासी पार्टीयां एड़ी चोटी का ज़ोर लगा रही हैं और वहां के अवाम को पार्टीयों की तरफ से दुसरे मुक़ामात पर मुंतक़िल किए जाने की इत्तिलाआत मिल रही हैं।

बावसूक़ ज़राए के बमूजब एक सियासी जमात के कारिंदे खेतों में छिप कर गांव के अवाम को उनके दोस्तों के ज़रीये बुलाकर रक़म तक़सीम कर रहे हैं।

इन तीनों इलाक़ों (जोपली, जयपली और तानडरा) में जुमला 850 वोट हैं, जबकि 30 अप्रैल को 633 वोट इस्तेमाल किए गए थे। वाज़िह रहे कि राय शुमारी के दिन कांग्रेस उम्मीदवार चला वमशी चन्द्र रेड्डी सुबह ही से सबक़त हासिल किए हुए थे, ताहम जैसे आमंगल मंडल की राय शुमारी हुई तो बी जे पी उम्मीदवार अच्चारी को उन पर सबक़त हासिल हो गई और शाम साढे़ पाँच बजे वो ढाई हज़ार वोटों से आगे पहुंच गए, लेकिन जैसे ही वीलदनढ मंडल की मशीनें खुलने लगीं तो बी जे पी उम्मीदवार धीरे धीरे पीछे होने लगे और शाम सात बजे कांग्रेस उम्मीदवार 153 वोटों से आगे पहुंच गए, जिस की वजह से इन तीनों इलाक़ों की री पोलिंग की एहमीयत बहुत ज़्यादा बढ़ गई है।

TOPPOPULARRECENT