Saturday , December 16 2017

दुर्गा की भक्ती पर हिंदू पड़ोसियों की जानिब से मुस्लिम ख़वातीन की सताइश

मध्य प्रदेश: एक 45 साला मुस्लिम ख़ातून की देवी दुर्गा की नवरात्री तहवार के दौरान भक्ती और एक दुर्गा मंदिर की तामीर में इस के हिस्से पर हिंदू पड़ोसीयों ने इस की दिल खोल कर सताइश की है। हालां कि उसे ऐसा करने पर कई धमकियां वसूल हो चुकी थीं। वो हाथ जोड़ कर मंदिर आती है और देवी दुर्गा की आराधना करती है।

नवरात्री के तहवार के दिनों में सगरी अषटमी के दिन उपवास भी करती है। ये नवरात्री का 8 वां दिन होता है। सीतला माता मंदिर समीती के सदर भेरूलाल बरहात ने कहा कि मुक़ामी हिंदू उसकी दुर्गा के साथ सच्ची भक्ती की सताइश करते हैं। ये एक ग़ैरमामूली भक्ती है। उन्होंने कहा कि वो गुज़िश्ता 10 ता 15 साल से देवी की पूजा कर रहे हैं।

इब्तिदा-ए-में वो मुहल्ला के एक प्लेटफार्म पर दुर्गा देवी की मूर्ती रखकर पूजा किया करते थे लेकिन एक रात देवी उस के ख़ाब में आई और इस से ख़ाहिश की कि इस के लिए मंदिर तामीर करे। सगरी मज़दूर है, और इसकी आमदनी माहाना सिर्फ़ 4 हज़ार रुपये है। वो 3 बच्चों की माँ है। उसने मंदिर की तामीर के लिए लोगों से चंदा जमा किया।

बाद में बाज़ लोगों ने मंदिर की तामीर के लिए सोसाइटी क़ायम कर दी। सुग़रा का शौहर इस्माईल ख़ान वेल्डर का काम करता है। उसने भी मंदिर की तामीर के लिए 27 हज़ार रुपये चंदा जमा किया है। मुक़ामी रुकन असेम्बली ने एक लाख रुपये चंदा दिया। तीन साल की मुद्दत में मंदिर की तामीर मुकम्मल हो गई।

TOPPOPULARRECENT