Monday , November 20 2017
Home / Crime / दुष्कर्म के आरोप में पीस पार्टी के अध्यक्ष डॉ अयूब के खिलाफ कार्रवाई के लिए पुलिस पर दबाव

दुष्कर्म के आरोप में पीस पार्टी के अध्यक्ष डॉ अयूब के खिलाफ कार्रवाई के लिए पुलिस पर दबाव

लखनऊ: सामूहिक दुष्कर्म के आरोपी उत्तर प्रदेश के पूर्व परिवहन मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति की गिरफ्तारी के बाद अब पुलिस पर सुल्तानपुर के विधायक रहे अरुण वर्मा और पीस पार्टी के अध्यक्ष डॉ अयूब के खिलाफ शिकंजा कसने का दबाव बढ़ता जा रहा है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार पूर्व विधायक अरुण वर्मा और पीस पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व विधायक डॉ अय्यूब पर बलात्कार के आरोप हैं। इस बीच पीड़िता की रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई। अधिकारियों ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। पुलिस आरोपियों के खिलाफ जल्द ही कार्रवाई करेगी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सामूहिक बलात्कार की 20 वर्षीय पीड़ित लड़की का शव स्थानीय स्कूल के पास से बरामद होने के बाद पिछले महीने समाजवादी पार्टी के विधायक अरुण वर्मा के खिलाफ सुल्तानपुर थाने में रिपोर्ट दर्ज की गई थी। पीड़ित लड़की ने वर्ष 2013 में मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज कराए गए अपने बयान में कहा था कि सुल्तानपुर में उसके साथ सामूहिक बलात्कार करने वाले आठ लोगों में अरुण वर्मा भी एक था। इस समय वह नाबालिग थी।

TOPPOPULARRECENT