Friday , January 19 2018

दूसरे मरहले में तकरीबन 55 फीसद वोटिंग

पटना : बिहार एसेम्बली के दूसरे मरहले में जुमा को तकरीबन 55 फीसद वोटरों ने अपने रायशुमारी का इस्तेमाल किया। साल 2010 में हुए इंतिख़ाब के मुक़ाबले इन सीटों पर तकरीबन 3 फीसद से ज्यादा रायशुमारी हुआ। दूसरे मरहले के लिए छह ज़िलों की 32 सीटों पर वोट डाले गए। इन सीटों पर वोटरों ने 456 उम्मीदवारों की क़िस्मत का फ़ैसला ईवीएम में बंद कर दिया। दूसरे मरहले में कैमूर, रोहतास, अरवल, जहानाबाद, औरंगाबाद और गया में वोटिंग हुआ।

नायब एलेक्शन कमिश्नर उमेश सिन्हा ने प्रेस कोन्फ्रेंस में बताया कि कैमूर में 57.86 फीसद, रोहतास में 54.66 फीसद, अरवल में 53.21 फीसद, जहानाबाद में 56.49 फीसद, औरंगाबाद में 52.50 फीसद और गया में 55.54 फीसद वोटिंग हुआ। उन्होंने बताया कि वोटिंग पुर अमन तरीके से खत्म हुआ। कैमूर ज़िले में लोगों को सहूलियत देने के लिए 12 वोटिंग सेंटर को बदला गया था, जबकि गया में 7 वोटिंग सेंटर का एहतेताम सिर्फ़ ख्वातीन के हाथों में था।

बिहार की कुल 243 एसेम्बली सीटों के लिए कुल पाँच मराहीलों में इंतिखाब होने हैं। पाँच नवंबर को पाँचवें और आखरी मरहले का वोटिंग होगा। आठ नवंबर को वोटों की गिनती होगी। 12 नवंबर को सारी इंतिखाबी अमल पूरी कर ली जाएगी।

 

TOPPOPULARRECENT