Monday , January 22 2018

देवघर भगदड़ : जख्मी कांवड़िए का खुलासा, पुलिस चप्पल से कर रहे थे पिटाई

रांची : देवघर में पीर को मची भगदड़ से पहले पुलिस मुलाज़िम कांवड़ियों पर लाठी और चप्पल मारकर लाइन में खड़ा कर रहे थे। यह कहना है देवघर हादसे में जख्मी ओड़िशा के रहने वाले कांवड़िया बलराम का। रिम्स में इलाजरत बलराम से मंगल को जब बातचीत की तो चौंकाने वाले खुलासे किए। उन्होंने कहा कि भगदड़ के बाद कई लोग जमीन पर गिरे थे और लोगों के पैरों तले कुचले जा रहे थे। इसके बावजूद पुलिस वाले चप्पल मारकर उन्हें फिर लाइन में खड़ा कर रहे थे।
उन्हें भी चप्पल से मारा गया। बलराम को तीन दीगर कांवरियों के साथ रांची वाकेय रिम्स लाया गया था। उनकी हालत में अब काफी सुधार है। वहीं, अजित, रीना और लकी की हालत में भी सुधार हो रहा है। बताते चलें कि झारखंड के देवघर में बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर के पास पीर सुबह भगदड़ मच गई थी। इसमें 11 कांवड़ि‍यों की मौत हो गई। जबकि 50 लोग जख्मी हो गए थे। इस वाकिया के बाद सरकार हरकत में आई और मौजूदा एसपी और डीसी को सस्पेंड कर दिया गया।

हाईकोर्ट ने कहा कि देवघर बाबा मंदिर में हुई वाकिया दुबारा ना हो, इसके लिए निज़ाम की जाएगी। बाबा मंदिर इंतेजामिया की निजाम भी बदली जाएगी। जरूरत पड़ी तो इसके लिए अलग बेंच में सुनवाई की जाएगी। चीफ जस्टिस वीरेंद्र सिंह जस्टिस पीपी भट्‌ट की बेंच ने मंग को एडवोकेट डॉ. एके सिंह की तरफ इस मामले में मुदाखिलत दरख्वास्त दायर करने की दरख्वास्त पर यह जुबानी तनकीद की। अदालत ने कहा कि वकील दरख्वास्त के जरिये अपनी बात रखें। 28 अगस्त को सुनवाई होगी।

TOPPOPULARRECENT