Saturday , May 26 2018

देवेगौड़ा तीसरे महाज़ का सवाल टाल गए

साबिक़ वज़ीर-ए-आज़म एच डी देवेगौड़ा ने मुल्क में थर्ड फ्रंट की तशकील के बारे में आज एक सवाल को ये कहते हुए टाल दिया कि वो अपनी जे डी एस को कर्नाटक में मज़बूत बनाने पर तवज्जा मर्कूज़ कर रहे हैं। अगर इलाक़ाई जमातें ताक़तवर बनती हैं तो इनकी ज़

साबिक़ वज़ीर-ए-आज़म एच डी देवेगौड़ा ने मुल्क में थर्ड फ्रंट की तशकील के बारे में आज एक सवाल को ये कहते हुए टाल दिया कि वो अपनी जे डी एस को कर्नाटक में मज़बूत बनाने पर तवज्जा मर्कूज़ कर रहे हैं। अगर इलाक़ाई जमातें ताक़तवर बनती हैं तो इनकी ज़्यादा वक़ात रहेगी। मैंने इस रियासत में जे डी एस को ताक़तवर बनाने पर तवज्जा देने का फ़ैसला किया है।

मैं इसी पर मुकम्मल तवज्जा देने वाला हूँ देवेगौड़ा ने यहां सहाफ़ीयों को ये बात बताई। इनका रद्द-ए-अमल उस इस्तिफ़सार पर सामने आया कि आया वो समाजवादी पार्टी जो उत्तर प्रदेश के चुनाव में इक़्तेदार पर आ गई, इसकी कामयाबी के तनाज़ुर में तीसरे महाज़ की तशकील में कोई क़ाइदाना रोल अदा करेंगे।

देवेगौड़ा ने एस पी की कामयाबी का ज़िक्र किया और मग़रिबी बंगाल में तृणमूल कांग्रेस का भी हवाला देते हुए अपनी दलील पर ज़ोर दिया कि इलाक़ाई जमातों को मज़बूत करना चाहीए। इन्होंने कहा कि वो कर्नाटक के 9 अज़ला का सफ़र कर चुके हैं और बक़ीया 21 अज़ला का भी दौरा करेंगे जो इस मसाई का हिस्सा है कि जे डी एस को ताक़तवर बनाया जाए ताकि वो आइन्दा साल असेंबली इंतेख़ाबात के लिए तैयार रहे।

जे डी एस के मौजूदा तौर पर 224 रुकनी असेंबली में 26 एम एल एज़ हैं। देवेगौड़ा ने वज़ीर मालियात परनब मुकर्जी के पेश कर्दा बजट पर शदीद तन्क़ीद की और इसे मुख़ालिफ़ ग़रीब, मुख़ालिफ़ किसान क़रार दिया। इन्होंने कहा कि सर्विस टैक्स और एक्साइज़ डयूटी में इज़ाफ़ा आम आदमी पर बोझ डालेगा।

TOPPOPULARRECENT