Monday , December 18 2017

देश के निर्माण में न्यायपालिका की भूमिका महत्वपूर्ण है: कोविंद

कोच्चि: अध्यक्ष रामनाथ कोविंद ने राष्ट्र निर्माण में स्वतंत्र न्यायपालिका की भूमिका को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि यह संविधान के तहत नैतिक सिद्धांतों के कार्यवाहक के रूप में काम कर रही है।

श्री कोविंद ने आज यहां केरल हाईकोर्ट की गोल्डन जुबली सत्र के समापन समारोह को संबोधित करते हुए कहा, ” स्वतंत्र न्यायपालिका आधारित हमारा न्यायिक व्यवस्था देश के निर्माण की प्रक्रिया का एक अभिन्न हिस्सा है। यह सुधारात्मक दिशा में काम करता है और कानून और प्राकृतिक न्याय की शुद्धिकरण रखता है।इस प्रकार, यह संविधान के तहत नैतिक सिद्धांतों के रक्षक के रूप में कार्य करता है।

राष्ट्रपति ने कहा, “यह देश को सभी को न्याय प्रदान करने की प्रक्रिया के साथ मिलकर एक बनाता है। न्याय प्रक्रिया जुड़े न्यायिक अधिकारियों और अदालत के अधिकारी सब मिलकर देश के वास्तुकार हैं और हम सब पर एक भारी जिम्मेदारी है। ”

श्री कोविंद ने कहा, “सामान्य नागरिक हमेशा आश्वस्त रहते हैं और निर्भर होते हैं कि न्यायपालिका हर समय उनके लिए खड़े रहेंगी। मुझे यकीन है कि न्यायपालिका हमेशा हमारे लोगों की आशा के लिए तैयार रहेंगी। “

TOPPOPULARRECENT