देश को बांटने वाली राजनीति बंद करें भाजपा के सांसद- देवबंदी उलमा

देश को बांटने वाली राजनीति बंद करें भाजपा के सांसद- देवबंदी उलमा

अफगानिस्तान के एक होटल में तालिबानी चरमपंथियों के हमले में शनिवार को आठ अफगान सैनिकों की मौत हो गई। देश में युद्ध खत्म करने के अमेरिका नीत प्रयासों के बावजूद पूरे अफगानिस्तान में हिंसा जारी है। यह हमला पश्चिमी अफगानिस्तान के बादगिस प्रांत की राजधानी कला-ए-नौ में स्थित एक होटल में हुआ जब हमलावरों ने वाणिज्यिक इलाके को निशाना बनाया जहां यह होटल और कई अन्य दुकानें स्थित हैं।

पश्चिमी अफगानिस्तान के बादगिस प्रांत में स्थित एक होटल में हमलावरों का एक समूह प्रवेश कर गया, जहां गोलीबारी में सुरक्षा बल के आठ जवान मारे गए । एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। यह हमला बादगिस प्रांत की राजधानी कला ए नाव में लगभग पौने एक बजे शुरू हुआ, जब कुछ हमलावरों का एक समूह होटल में प्रवेश कर गया। उनमें से कुछ ने आत्मघाती जैकेट पहना हुआ था।

बादगिस प्रांतीय परिषद के प्रमुख अजीज बेक ने बताया, ”हमलावर होटल में घुस आये जहां सुरक्षा बलों के साथ उनकी मुठभेड़ हो गयी।” बेक ने बताया, ”अबतक सुरक्षा बल के तीन जवान मारे गए हैं, जबकि दो अन्य घायल हो गए हैं।”

उन्होंने बताया कि पास के स्कूलों से बच्चों को निकाल लिया गया है और शहर में विस्फोटों की आवाज सुनी जा सकती है। आंतरिक मामलों के मंत्रालय के प्रवक्ता नसरत रहीमी ने कहा कि आत्मघाती हमलावरों का समूह होटल में घुस गया और उनलोगों ने आम लोगों पर गोली बारी शुरू कर दी।

बादगिस के गवर्नर अब्दुल गफूर मलिकजई ने कहा, “हमारे पास खुफिया जानकारी थी कि आत्मघाती हमलावर कला-ए-नौ पर हमले की साजिश रच रहे हैं।” “हमलावरों ने गवर्नर के कार्यालय और पुलिस मुख्यालय के पास एक इमारत पर कब्जा कर लिया।” रक्षा मंत्रालय ने बताया कि तीन हमलावरों की मौत हो गई और दो और को गिरफ्तार किया गया है। साथ ही बताया कि अफगान सुरक्षा बल के आठ कर्मियों की मौत हो गई और आम नागरिकों समेत 20 अन्य घायल हो गए।

Top Stories